उरी कैम्प जैसा हमला नाकाम, 3 आतंकी ढेर

  • उरी कैम्प जैसा हमला नाकाम, 3 आतंकी ढेर
You Are HereNational
Sunday, September 24, 2017-10:37 PM

श्रीनगर(मजीद): उत्तर कश्मीर के बारामूला जिले के उरी सैक्टर में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया।

बताया जाता है कि आतंकी उसी तरह का हमला करना चाहते थे, जैसा उन्होंने उरी आर्मी कैम्प पर किया था। इस हमले को जवानों ने नाकाम कर आतंकियों के मनसूबों पर पानी फेर दिया। उधर उत्तर कश्मीर के हंदवाड़ा में सेना ने एक आतंकी ठिकाने का पर्दाफाश कर विस्फोटक सामग्री, हथियार व गोला-बारूद बरामद किया है जिसमें विमान को निशाना बनाने वाली बंदूक भी शामिल है। 

जानकारी के अनुसार आतंकियों के छिपे होने की खुफिया सूचना के आधार पर तड़के जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एस.ओ.जी.) और सुरक्षा बल के जवानों ने उड़ी के कालीगढ़ में एक संयुक्त तलाशी अभियान शुरू किया। इस दौरान सुरक्षा बल जब गांव के एक विशेष क्षेत्र की घेराबंदी करके आगे बढ़ रहे थे तब आतंकवादियों ने उन पर स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने भी आतंकवादियों की गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब देते हुए 3 आतंकवादियों को ढेर कर दिया। सूत्रों ने बताया कि तंगधार सैक्टर में सेना के गश्ती दल ने तड़के एल.ओ.सी. पर कुछ संदिग्ध तत्वों को देखा था। जवानों के ललकारे जाने पर संदिग्ध वापस गुलाम कश्मीर की तरफ भाग निकले थे।

लैफ्टिनैंट जनरल अनबू ने एल.ओ.सी. पर लिया हालात का जायजा 
सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लैफ्टिनैंट जनरल डी. अनबू ने उत्तरी कश्मीर में एल.ओ.सी. से सटे क्षेत्रों का दौरा कर मौजूदा सुरक्षा हालात का जायजा लिया। इस दौरान उनके साथ चिनार कोर कमांडर लैफ्टिनैंट जनरल जे.एस. संधू भी थे। सेना कमांडर को जमीनी सतह पर सुरक्षा प्रबंधों व तैयारियों की जानकारी दी गई।

उड़ी में पिछले साल जैसे हमले की थी साजिश: डी.जी.पी.
जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक(डी.जी.पी.) एस.पी. वैद ने कहा है कि आतंकी पिछले साल उड़ी जैसे हमले की घटना को अंजाम देना चाहते थे जिसे सेना ने नाकाम कर दिया। आज यहां 29वें पुलिस-पब्लिक मीट में डी.जी.पी. ने कहा कि उड़ी में आतंकियों को रोक कर सुरक्षा बलों ने बड़े हमले को टाल दिया। उनकी योजना सितम्बर, 2016 जैसे फिदायीन हमले को अंजाम देने की थी। बारामूला जिले में उड़ी सैक्टर के कलगाई इलाके में चालू मुठभेड़ में अभी तक एक आतंकी को मार गिराया गया है।

एस.पी.ओ. ने ग्रेनेड हमला किया नाकाम
उत्तर कश्मीर में बारामूला के सोपोर में आतंकियों ने ग्रेनेड से हमला किया जिसमें 1 जवान, 1 पुलिसकर्मी और 5 नागरिक घायल हो गए। वहीं, एस.पी.ओ. ने फिल्मी स्टाइल में ग्रेनेड हमले को नाकाम करते हुए कम से कम 15 सुरक्षाकर्मियों की जान बचाई। दरअसल आतंकियों का मकसद सी.आर.पी.एफ. बंकर को निशाना बनाना था। हालांकि इस दौरान बंकर में तैनात एस.पी.ओ. आकिब अहमद ने फुर्ती दिखाते हुए ग्रेनेड को लपक लिया और फिर बाहर फैंक दिया। वह ग्रेनेड एस.बी.आई. की शाखा की इमारत के पास जाकर गिरा, जिसमें 5 लोग घायल हो गए। हालांकि एस.पी.ओ. ने फुर्ती से ग्रेनेड को लपक लिया जिससे बंकर में मौजूद 15 जवानों की जान बच गई। इस ग्रेनेड हमले के पीछे लश्कर-ए-तोयबा का हाथ है। 

इसी बीच ग्रेनेड धमाके से क्षेत्र में अफरा-तफरी फैल गई। सुरक्षाबलों ने क्षेत्र को घेर लिया है व हमला करने वाले आतंकवादियों की धरपकड़ के लिए क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। उधर घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस महानिदेशक (डी.जी.पी.) एस.पी. वैद ने कहा कि आतंकियों ने सोपोर में एक पुलिस की गाड़ी के अंदर ग्रेनेड फैंका, लेकिन सुरक्षा बलों की मुस्तैदी के चलते ग्रेनेड को बाहर फैंक दिया गया। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You