वरुण गांधी ने रोहिंग्या से जताई हमदर्दी, केंद्रीय मंत्री ने किया विरोध

  • वरुण गांधी ने रोहिंग्या से जताई हमदर्दी, केंद्रीय मंत्री ने किया विरोध
You Are HereTop News
Tuesday, September 26, 2017-5:26 PM

नई दिल्ली: रोहिंग्या से हमदर्दी जताकर वरुण गांधी विवादों में घिर गए हैं। जानकारी के अनुसार सुल्तानपुर से भाजपा सांसद वरुण गांधी ने मोदी सरकार को अतिथि देवो भव:की परंपरा याद दिलाते हुए एक अखबार के लेख में कहा कि भारत को रोहिंग्या की मदद करनी चाहिए और शरण देनी चाहिए। हालांकि उन्होंने यह भी लिखा कि मदद करने से पहले वैध सुरक्षा चिंताओं का आंकलन भी करना चाहिए।

भारत सरकार से की स्पष्ट रिफ्यूजी नीति बनाने की अपील 
वरुण ने लिखा कि आतिथ्य सत्कार और शरण देने की अपनी परंपरा का पालन करते हुए हमें शरण देना निश्चित रूप से जारी रखना चाहिए।  उन्होंने लिखा कि जन इलाकों में बड़ी संख्या में शरणार्थी हों, वहां तनाव और भेदभाव कम करने के लिए स्थानीय निकायों को आगे बढ़ कर मकान मालिकों और स्थानीय एसोसिएशनों को इनके प्रति संवेदनशील बनाने के लिए कदम उठाने चाहिये। इसके साथ ही उन्होंने भारत सरकार से स्पष्ट रिफ्यूजी नीति भी बनाने की अपील की। भाजपा सांसद ने लिखा कि दिल्ली में रहने वाले ज्यादातर अफगानियों और म्यांमारियों को मकान मालिकों के भेदभाव का सामना करना पड़ता है। 

वरुण ने अपने बयान के बाद दी सफाई 
वरुण गांधी की इस अपील को खारिज करते हुए केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि जो देश के हित में सोचेगा वो इस तरह के बयान नहीं देगा। अहीर के बयान के बाद वरुण गांधी ने सफाई देते हुए ट्वीट किया कि उन्होंने भारत की शरण देने की नीति पर चर्चा की थी और जहां तक रोहिंग्या मुसलमानों के लिए दया भाव का सवाल है तो उन्हें शरण देने से पहले सभी की जांच की जानी चाहिए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You