कांग्रेस बोली,किसान धोती में क्रेडिट कार्ड नहीं रखता,BJP का जवाब-बेईमान दुखी

  • कांग्रेस बोली,किसान धोती में क्रेडिट कार्ड नहीं रखता,BJP का जवाब-बेईमान दुखी
You Are HereTop News
Wednesday, November 16, 2016-2:19 PM

नई दिल्ली: जैसा कि माना जा रहा था कि नोटबंदी पर आज संसद का शीतकालीन सत्र हंगामे भरा रहेगा, वैसा ही हुआ। लोकसभा का पहला दिन नहीं रहे पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के बाद गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया। वहीं राज्यसभा में  विपक्ष ने नोटबंदी को लेकर काफी हंगामा किया। विपक्ष नोटबंदी पर जवाब मांग रहा है। सरकार ने कहा कि वह जवाब देने के लिए तैयार है लेकिन जब तक विपक्ष सुनेगी ही नहीं कैसे जवाब दिया जाए।

'किसान धोती में क्रेडिट कार्ड नहीं रखता'
राज्यसभा में कांग्रेस के सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि हम कालाधन और आतंकवाद के खिलाफ हैं। सरकार ने नोटबंदी का निर्णय गलत समय लिया इससे किसानों को और आम आदमी को बहुत दिक्कत हो रही है। आनंद शर्मा ने कहा कि 2000 का नया नोट रंग छोड़ता है। बचपन में चूरन की पुड़िया में ऐसा नोट मिलता था। नोटबंदी पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा यूनियनों को फैसला लीक किया गया। बैंक से कैश निकासी पर रोक क्यों है? नोटबंदी से बेटियों की शादियां तक रुकी हैं। गरीब की लाश अस्पतालों में फंसी है। भाजपा ने घाव दिए और घाव पर नमक भी लगाया। मजदूर, किसान नोटबंदी से बेकार हुए, क्या गाजीपुर की रैली का भुगतान क्रेडिट कार्ड से हुआ? SBI को मार्च से नोट बंद होने की जानकारी थी।

पीयूष गोयल का आनंद शर्मा को जवाब
आनंद शर्मा के सवालों पर भाजपा सांसद पीयूष गोयल ने कहा कि पूरा देश पीएम के फैसले का स्वागत कर रहा है। आनंद शर्मा का अर्थशास्त्र कमजोर है। पहली बार ईमानदारी को सम्मान और बेईमान को नुकसान हुआ है।

हम हर विषय पर चर्चा के लिए तैयार
सेशन से पहले पीएम मोदी ने कहा कि इस बार सत्र में अच्छी चर्चा होगी। हम चर्चा के लिए तैयार हैं। सबके साथ रहने से अच्छा काम होता है। खुलकर चर्चा हो इसके लिए भी हम तैयार हैं। जनता की उम्मीदों पर चर्चा होगी। पीएम ने कहा कि पिछले सत्र में जीएसटी जैसा अहम बिल पास हुआ, ये बड़ा कदम था।

सरकार के खिलाफ ममता ने बनाई रणनीति
टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी जहां राष्ट्रपति भवन तक मार्च करने की तैयारी में हैं वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने नोटबंदी के फैसले की जेपीसी से जांच कराने की मांग की है। 500 और 1000 के नोट बंद करने के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालेगी और राष्ट्रपति से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपेगी। बता दें कि पिछले सात दिनों से बैकों और एटीएम से पैसे निकालने के लिए जद्दोजहद कर रही जनता की लंबी कतारों और उनको हो रही परेशानी की गूंज आज संसद में भी गूंजी। 8 नवंबर को पीएम मोदी की 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा के बाद से ही देशभर में हलचल मची हुई है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You