कम वसूली से चिंतित एल.जी.

  •  कम वसूली से  चिंतित एल.जी.
You Are HereNcr
Tuesday, February 25, 2014-12:57 AM
 नई दिल्ली(ताहिर सिद्दीकी):दिल्ली में कम राजस्व वसूली से चिंतित उपराज्यपाल ने मुख्य सचिव एस.के.श्रीवास्तव को पत्र लिखकर कम राजस्व वसूली पर गहरी  चिंता जताई है। 
 
पत्र में राजस्व वसूली की दृष्टि से अहम माने जाने वाले बिक्री कर (वैट) और आबकारी विभाग पर ज्यादा ध्यान केंद्रित करने कहा 
गया है। इसी के बाद मुख्य सचिव ने इस बाबत संबंधित विभागों को आदेश जारी कर अपना ध्यान राजस्व वसूली पर केंद्रित करने को कहा है। 
 
सूत्रों के मुताबिक अभी तक दिल्ली सरकार को लक्ष्य से 3 हजार करोड़ रूपए कम राजस्व वसूली का आकलन किया गया है। मुख्य सचिव ने मौजूदा वित्तीय वर्ष के बचे हुए समय में राजस्व वसूली बढ़ाने पर जोर दिया है। खासकर बिक्रीकर (वैट) और आबकारी विभाग पर ज्यादा ध्यान केंद्रित करने कहा गया है जो राजस्व वसूली के बड़े विभाग माने जाते हैं। 
 
ज्ञातव्य है कि अरविंद केजरीवाल की सरकार 49 दिनों में राजस्व वसूली पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाई और सभी विभाग लक्ष्य प्राप्त करने में असफल रहे। 31 मार्च 2014 तक राजस्व वसूली का लक्ष्य 30 हजार 454 करोड़ रुपए था लेकिन अब 27 हजार करोड़ रुपए के लक्ष्य को प्राप्त करना भी संभव नहीं दिखता है। अब ङ्क्षचता इस बात की है कि राजस्व वसूली कहीं 27 हजार करोड़ रुपए से भी कम न रह जाए। 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You