दम तोड़ रही है कठपुतली कला

  • दम तोड़ रही है कठपुतली कला
You Are Heremiscellaneous
Tuesday, February 25, 2014-10:50 AM

केंद्रपाड़ा (ओडिशा): धागों की मदद से चलने वाली कठपुतली दशकों से लोगों का मनोरंजन करती आ रही है लेकिन अब सरकार तथा गैर सरकारी संगठनों के संरक्षण के अभाव में यह कला धीरे धीरे दम तोड़ती जा रही है। केंद्रपाड़ा जिले के एक दूरस्थ गांव में कुछ लोगों ने इस कला को पुनर्जीवित करने का बीड़ा उठाया है। स्थानीय लोग इस कला को ‘‘सखी कुंधेई’’ कहते हैं। जिले के दूरस्थ गांव पालकाना में अभी भी यह कला जीवित है और कलाकार आसपास तथा कभी कभार दूर तक के इलाकों में इस कला का प्रदर्शन करते हैं।

 

एक शोधार्थी बसुदेव दास ने बताया ‘‘जब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिये 24 घंटे ज्यादा आकर्षक लोकप्रिय मनोरंजन मौजूद है ऐसे में इस कला को जीवित रखना बहुत मुश्किल हो रहा है।’’ उन्होंने कहा कि ऐसे में सवाल उठता है कि गिनेचुने ये कलाकार आखिर कितने समय तक भावी पीढिय़ों के लिए इस प्राचीन परंपरागत कला को बचाए रख पाएंगे। कठपुतली शो में लकड़ी की गुडिय़ां होती हैं और इन्हें धागों से बांध कर नचाया जाता है। इस दौरान पृष्ठभूमि में संगीत और आवाज के जरिये पुराणों की कहानियां बताई जाती हैं। कई बार आधुनिक सामाजिक से सरोकार रखने वाले विषय भी इस कला के जरिये पेश किए जाते हैं।

 

पालकाना गांव के 62 वर्षीय कलाकार फकीर सिंह ने बताया कि कुछ लोगों को अब भी कठपुतली कला बहुत पसंद है। उन्होंने बताया ‘‘मैं कठपुतली कला के शो संचालकों से ऑर्डर मिलने पर लकड़ी की कठपुतलियां बनाता हूं। मैं कठपुतलियां बेच कर भी कमा लेता हूं और शो आयोजित करके भी।’’ सिंह ने याद किया कि जब वह 12 साल के थे तब उन्होंने ढेंकानाल में एक कठपुतली मंडली में शामिल होने के लिए घर छोड़ दिया था। तब कठपुतली शो की बहुत मांग होती थी।

 

उन्होंने बताया कि पिछले एक दो साल कठपुतली कला के लिए अच्छे रहे जब कठपुतली शो की मांग बढ़ी। ‘‘यह जारी रहना चाहिए।’’ सिंह ने कहा ‘‘ग्रामीण इलाकों के अलावा राज्य के पश्चिमी हिस्सों से भी कठपुतली शो के लिए आमंत्रण आते हैं। लेकिन समस्या यह है कि इस मांग को पूरी करने के लिए दक्ष कलाकारों की संख्या बहुत ही कम है। जब तक सरकार से वित्तीय मदद नहीं मिलेगी तब तक इस कला के पुनर्जीवित होने के आसार कम ही हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You