खनन बंद होने से लोग परेशान, AAP नेता भूषण को ठहराया जिम्मेदार

  • खनन बंद होने से लोग परेशान, AAP नेता भूषण को ठहराया जिम्मेदार
You Are HereNcr
Tuesday, February 25, 2014-3:45 PM

पणजी: खनन से जुड़े लोगों के एक समूह ने लौह अयस्क उत्खनन कार्यकलाप के बंद होने से प्रभावित लोगों की दुर्दशा के लिए आज आंशिक रूप से आम आदमी पार्टी (आप) को जिम्मेदार ठहराया और आरोप लगाया कि उसके नेता प्रशांत भूषण के मिथ्याप्रचार से उन्हें भारी कीमत चुकानी पड़ रही है। गोवा माइनिंग पीपुल्स फ्रंट (जीएमपीएफ) ने खनन बंद किए जाने के खिलाफ 28 फरवरी को राज्य में मार्च निकालने का भी फैसला किया।

 

फ्रंट के नेता क्रिस्टोफर फोनेस्का ने यहां संवाददाताओं से कहा,‘‘आप नेता प्रशांत भूषण ने राज्य के खनन उद्योग के संबंध में उच्चतम न्यायालय के सामने गलत तथ्य रखे। भूषण ने कहा कि केवल 7000 लोग ही खनन बंद होने से प्रभावित हुए जबकि वास्तव में एक लाख से अधिक लोग प्रत्यक्ष रूप से परेशान हैं।’’

 

भूषण उच्चतम न्यायालय में एनजीओ गोवा फाउंडेशन का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं जिसने राज्य में अवैध खनन के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की थी। फोनेस्का ने कहा, ‘‘17 महीने से खनन पर लगी रोक के खनन पर आश्रित हजारों लोगों की आजीविका प्रभावित हुई है। गोवा सरकार और केंद्र सरकार वर्तमान खनन संकट को खत्म करने में उच्चतम न्यायालय को राजी करने में बुरी तरह विफल रहा है।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You