अदालत ने रखा कांडा की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित

  • अदालत ने रखा कांडा की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित
You Are HereHaryana
Tuesday, February 25, 2014-8:36 PM

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने एयरहोस्टेस गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले में आरोपी और हरियाणा के पूर्व मंत्री गोपाल गोयल कांडा की जमानत याचिका पर अपना आदेश आज चार मार्च के लिये सुरक्षित रख लिया। दिल्ली पुलिस और कांडा के वकील की दलीलें सुनने के बाद अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश यशवंत कुमार ने आदेश के लिए चार मार्च की तारीख तय की। पुलिस ने कांडा की जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा कि वह गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं और सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं।

अतिरिक्त लोक अभियोजक राजीव मोहन ने दावा किया कि जमानत हासिल करने के लिए कांडा ने एक सरकारी अस्पताल में अपनी पत्नी के इलाज के संबंध में गलत दस्तावेज पेश किए थे। कांडा के वकील ने अभियोजन के दावे का विरोध करते हुए अदालत से कहा कि टाइप में चूक हो गयी थी और पुलिस अस्पताल से जांच कर सकती है। कांडा ने 17 फरवरी को याचिका दाखिल करते हुए अनुरोध किया था कि उन्हें अपनी बीमार पत्नी की देखभाल के लिए जमानत दी जाए। उन्होंने कहा कि वह पिछले 18 महीने से न्यायिक हिरासत में हैं और मामले में जांच पूरी हो चुकी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You