जब रास्ता भटके आमिर खान, पहुंचे नक्सली इलाके में

  • जब रास्ता भटके आमिर खान, पहुंचे नक्सली इलाके में
You Are HereBihar
Wednesday, February 26, 2014-1:22 PM

पटना:  सत्यमेव जयते सीजन 2 की शूटिंग के सिलसिले में दशरथ मांझी के गांव गहलौर जाने के दौरान आमिर कान और उनकी पूरी टीम रास्ता भटक गई। सत्यमेव जयते सीजन 2 की पूरी यूनिट और आमिर गया के नक्‍सली इलाके में 10 किमी अंदर तक चले गए। दरअसल, मंगलवार सुबह 9:30 बजे पटना पहुंचने के बाद आमिर खान वहां से गया के गहलौर गांव के लिए रवाना हुए, जहां उन्हें दशरथ मांझी के परिवार से मिलना था। बिहार पुलिस की टीम भी आमिर और उनकी टीम के साथ थी, जो सुरक्षा के साथ ही रास्‍ता दिखाने का काम कर रही थी। परंतु रास्ते में एक गलत मोड़ ने सभी को नक्‍सली इलाके में पहुंचा दिया।

लेकिन बताया जाता है कि जहानाबाद के बाद जब राजगीर होते हुए टीम गया जिले में प्रवेश करने वाली थी तभी नालंदा पुलिस यह सोच कर काफिले से अलग हो गई कि आगे गया की टीम उन्‍हें लीड करेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। राजगीर से दो रास्‍ते अलग-अलग दिशाओं में जा रहे थे। आमिर खान का काफिला नक्‍सली इलाके में 10 किमी तक अंदर चला गया। बिहार पुलिस को जब अपनी भूल का अंदाजा हुआ तो उन्‍होंने गया पुलिस से संपर्क साधा। इसके बाद टीम वापस राजगीर पहुंची और आमिर और उनकी टीम को सही रास्‍ते पर आगे बढ़ाया।  जानकारी के मुताबिक, नक्‍सली इलाके में भटकने का यह पूरा वाकया लगभग 30 मिनट का रहा।

इस भूल ने बिहार पुलिस की खामियों की ओर भी भौंहे टेढ़ी कर दी है, जिसने वीआईपी सुरक्षा को किसी सामान्‍य गतिविधी की तरह अंजाम दिया। बिहार पुलिस की टीम के बीच आपसी तालमेल की कमी का खामियाजा आमिर खान और उनकी टीम को भुगतना पड़ा। इस बात से पूरी टीम के होश उड़ गए। जानकारी के मुताबिक, जब आमिर खान को यह बात पता चली तो वह काफी नर्वस हो गए। वह गाड़ी के अंदर किसी से लगातार फोन पर बात कर रहे थे और सही रास्‍ते की जानकारी ले रहे थे। हालांकि आमिर खान ने इस बात से इंकार करते हुए कहा कि उन्‍हें नक्‍सलियों से डर नहीं लगता।

इसके बाद आमिर खान दशरथ मांझी के गांव गहलौर पहुंचे और उनकी समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित  कर उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजली अर्पित की। दशरथ मांझी के परिवार वालो से मिलने आएं आमिर खान ने कहा कि उनसे जो बन पड़ेगा वह दशरथ मांझी के परिवार के लिए करेंगे। बिहार के लोगों ेस उन्हें जो जज्बात और प्यार मिला है वह उसके लिए लोगो का शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ। आमिर ने कहा कि नक्सल प्रभावित इलाका होने के बाद भी उन्हें यहां आने में डर नही लगा और वह बिहार को समझने के लिए फिर यहां आएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You