राजनीति के जरिये पैसा कमाने वाले थाम रहे हैं दूसरे दलों का दामन: बेनी

  • राजनीति के जरिये पैसा कमाने वाले थाम रहे हैं दूसरे दलों का दामन: बेनी
You Are HereNational
Wednesday, February 26, 2014-10:04 PM

बाराबंकी : लोकजन शक्ति पार्टी द्वारा संप्रग गठबंधन से अलग होकर भाजपा के साथ मिलने की संभावनाओं पर टिप्पणी करते हुए केन्द्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने आज यहां कहा कि जिन लोगों को राजनीति के जरिये पैसा कमाना है वह पार्टियां छोड़कर दूसरे दलों का दामन थाम रहे हैं। वर्मा ने आज यहां कांग्रेस सेवा दल के मण्डलीय प्रशिक्षण शिविर कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं द्वारा रामविलास पासवान के संप्रग गठबंधन को छोड़कर भाजपा में शामिल होने के बारे में पूछे गये सवाल पर कहा, ‘‘जिन लोगों को राजनीति में पैसा कमाना है वह पार्टियां छोड़कर दूसरी पार्टियों का दामन थाम रहे हैं जिसका उदाहरण रामविलास पासवान हैं।’’

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर पूछे गये एक सवाल के जवाब में वर्मा ने कहा कि यह विडंबना ही है कि महात्मा गांधी के हत्यारे आज पटेल की जयंती मनाकर वोट की राजनीति के लिये नाटक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने ही आरएसएस पर प्रतिबंध लगाया था और वह इस संगठन को कभी पसंद नहीं करते थे, मगर उसी संगठन से जुड़े लोग वोटों की राजनीति के लिये उनकी जयंती मनाने का ढोंग रच रहे हैं। इससे पूर्व कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इस्पात मंत्री ने कहा कि कांग्रेस सेवा दल को अब सशक्त बनाने की बहुत जररत है क्योंकि यही संगठन भाजपा और आरएसएस जैसे संगठनों का मजबूती से मुकाबला कर सकती है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश कांग्रेसियों के लिये हमेशा मजबूत जमीन रही है, लेकिन कांग्रेस की कुछ कमजोरियों के कारण ही भाजपा सहित कुछ अन्य गैर कांग्रेसी दल सत्ता में आ गये। मगर अब पुन: कांग्रेस प्रदेश में मजबूत होती जा रही है और लोकसभा के परिणाम यह साबित कर देंगे। तीसरे मोर्चे का जिक्र करते हुए इस्पात मंत्री ने कहा कि यह मोर्चा चुनाव से पहले ही टूटकर बिखर जायेगा और मुलायम सिंह यादव का प्रधानमंत्री बनने का सपना भी मुंगेरी लाल के सपनों की तरह हो जायेगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You