<

गुप्त सूचना पर हुई तेजपाल के कक्ष में छापेमारी : पर्रिकर

  • गुप्त सूचना पर हुई तेजपाल के कक्ष में छापेमारी : पर्रिकर
You Are HereNational
Thursday, February 27, 2014-4:54 PM

पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि राष्ट्रीय राजधानी के अच्छे पत्रकारों से मिली गुप्त सूचना के आधार पर तहलका के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल के जेल कक्ष में छापेमारी की गई। पर्रिकर ने एक  सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान यहां कहा कि 23 फरवरी को छापे के दौरान तेजपाल के कक्ष से मोबाइल फोन बरामद किया गया है, जिससे वह हर सुबह दिल्ली में मौजूद पत्रकारों से बात करते थे।

मुख्यमंत्री ने कहा,  ‘‘दिल्ली में मौजूद पत्रकारों ने हमें इसकी जानकारी दी कि वह हर सुबह दिल्ली के पत्रकारों से बात करते हैं। छापे के लिए गुप्त सूचना दिल्ली के प्रेस से आई थी।’’ 23 फरवरी को साडा जेल में छापेमारी के दौरान कथित रूप से नौ मोबाइल फोन बरामद किए गए जहां तेजपाल कैद हैं। कारावास अधिकारियों का दावा है कि तेजपाल के शर्ट की कॉलर से एक सिम कार्ड भी बरामद किया गया है। तेजपाल ने हालांकि छापेमारी कर रही टीम को बताया कि फोन इस कक्ष में रह रहे दूसरे कैदी की हो सकती है।

कारावास अधिकारियों ने इस कार्रवाई को नियमित छापेमारी बताया है, लेकिन पर्रिकर का कहना है कि छापेमारी इसलिए संभव हो पाई क्योंकि अच्छे पत्रकारों ने सरकारी एजेंसियों के साथ सहयोग किया। गोवा के मुख्यमंत्री पर पिछले सप्ताह ही राज्य के पत्रकारों को अपमानित किए जाने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने एक सभा में पत्रकारों की शिक्षा और वित्तीय स्थिति पर सवाल उठाया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You