कांग्रेस के प्रदेश सचिव महेन्द्र ने की आत्महत्या

  • कांग्रेस के प्रदेश सचिव महेन्द्र ने की आत्महत्या
You Are HereNational
Wednesday, March 05, 2014-12:56 AM
नई दिल्ली : पश्चिमी दिल्ली के ङ्क्षबदापुर स्थित विजय विहार एन-ब्लॉक में रह रहे कांग्रेस के प्रदेश सचिव महेंद्र गुप्ता (50) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मंगलवार सुबह जब परिवार के सदस्य उनको फंदे पर लटका पाया, तो फंदे से उतारकर तुरंत नजदीक के अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
 
वे सांसद महाबल मिश्रा के सहयोगी थे और उनके प्रचार-प्रसार का काम देखते थे। सुसाइड नोट न मिलने से आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। परिजनों का कहना है कि वे लंबे समय से डिप्रेशन का इलाज करा रहे थे।
 
पुलिस के मुताबिक गुप्ता सपरिवार विजय विहार में रहते थे। मंगलवार सुबह 8.30 बजे पुलिस को गुप्ता नॄसग होम से उनके खुदकुशी की सूचना मिली। बिंदापुर के थाना प्रभारी ने पुलिसकर्मियों के साथ नर्सिंग होम पहुंचकर शव को कब्जें में लिया।
 
पुलिस ने छानबीन के दौरान घटना स्थल का मुआयना किया। जांच में पता चला कि घर के एक सदस्य ने उन्हें फांसी पर लटका हुआ देखा था। उस समय उनकी सांसे चल रहीं थीं। परिवार वालों ने उन्हें तुरंत नॄसग होम में भर्ती करवाया। पुलिस को उनके घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। जिला पुलिस उपायुक्त सुमन गोयल ने बताया कि जांच में पता चला है कि गुप्ता डिप्रेशन के शिकार थे और दवा का सेवन कर रहे थे। साथ ही वह भूत-प्रेत की बातें भी किया करते थे। 
 
गुप्ता पिछले 25 साल से कांग्रेस के सक्रिय कार्यकत्र्ता थे। वे इस बार उत्तम नगर विधान सभा से चुनाव के लिए टिकट की दावेदारी भी पेश की थी, लेकिन नहीं मिला। उनके सहयोगियों का कहना है कि वे काफी अरसे से पार्टी से टिकट की मांग रहे थे। फिलहाल, वह दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी में प्रदेश सचिव थे। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You