BJP का दामन थामने वाली छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच का पुनर्गठन

  • BJP का दामन थामने वाली छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच का पुनर्गठन
You Are HereNational
Wednesday, March 05, 2014-10:50 AM

रायपुर: दीपक साहू और समर्थकों के स्वाभिमान मंच छोड़कर भाजपा का दामन थामने के बाद छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच का पुनर्गठन किया गया है। केंद्रीय कार्यकारिणी ने मन्नूलाल परगनिहा को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई है। मंच लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ की ग्यारह सीटों पर चुनाव लड़ेगी और इसके लिए संभागीय प्रभारी भी नियुक्त किया गया है।

छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच के केंद्रीय प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि केंद्रीय कार्यकारिणी ने दीपक साहू के भाजपा प्रवेश के बाद मंच को पुनर्गठित कर लिया है। उन्होंने बताया कि मन्नूलाल परगनिहा को अध्यक्ष, राजकुमार गुप्त एवं गेंदलाल वर्मा को उपाध्यक्ष, सीए विष्णु बघेल, भोजराम डड़सेना, रामप्रताप साहू, रीति देशलहरा को महासचिव, भगतराम सोनी को कोषाध्यक्ष, रजा अहमद, रमाशंकर अजगल्ले, जमुना मंडवी, गोपाल साहू तथा विलियम बाखला को सचिव बनाया गया है।

उन्होंने कहा कि नए पदाधिकारियों के गठन में सभी क्षेत्र, समाज और धर्म के लोगों को स्थान देकर संतुलन की स्थिति बनाने की कोशिश की गई है। कुछ राष्ट्रीय राजनीतिक पार्टियों की छत्तीसगढ़ इकाई के मंच में विलय की संभावना को ध्यान में रखते हुए, कुछ पद रिक्त रखे गए हैं। गुप्ता ने बताया कि छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच की केंद्रीय कार्यकारिणी समिति ने लोकसभा चुनाव में सभी 11 क्षेत्रों से पार्टी प्रत्याशी खड़े करने का निर्णय लिया है। दुर्ग से मन्नूलाल परगनिहा तथा राजनांदगांव से भगतराम सोनी को पहले ही प्रत्याशी घोषित किया जा चुका है, शेष क्षेत्रों के लिए प्रत्याशियों के नामों का चयन शीघ्र ही कर लिया जाएगा।

राज्य में भाजपा तथा कांग्रेस का सशक्त और विश्वसनीय विकल्प बनाने की संभावना को ध्यान में रखते हुए, समान विचारधारा वाले अन्य दलों के साथ चुनावी तालमेल करने का विकल्प भी खुला रखा गया है। लोकसभा चुनाव में पार्टी की दमदार उपस्थिति दर्ज कराने के लिए पदाधिकारियों को संभागीय प्रभारी का दायित्व भी सौंपा गया है। उपाध्यक्ष गेंदलाल वर्मा को दुर्ग संभाग, महासचिव विष्णु बघेल को रायपुर संभाग, महासचिव रामप्रताप साहू को सरगुजा संभाग तथा सचिव रजा अहमद को बिलासपुर संभाग का प्रभारी बनाया गया है। लोकसभा प्रभारियों तथा जिला अध्यक्षों की घोषणा एक दो दिनों में किया जा सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You