हमने कोई गलती नहीं की है: पासवान

  • हमने कोई गलती नहीं की है: पासवान
You Are HereBihar
Wednesday, March 05, 2014-6:17 PM

पटना: वर्ष 2002 के गुजरात दंगे को लेकर 12 साल पूर्व राजग से अलग होने वाले लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने आज कहा कि राजग में शामिल होकर उन्होंने कोई गलती नहीं की क्योंकि कांग्रेस और राजद के साथ गठबंधन को लेकर अनिश्चितता के बीच उन्हें जिस तरह से अपमानित और किनारे कर दिया। इसके बाद अपनी पार्टी के हित को ध्यान में रखकर उन्हें यह फैसला करना पड़ा। पटना में आज पत्रकारों से बातचीत करते हुए पासवान ने कहा कि उन्होंने व्यक्तिगत आदर्श भावना में बहकर धर्मनिरपेक्षता और पुराने गठबंधन राजद और लोजपा के नाम पर कांग्रेस और राजद के साथ समझौते के लिए समय को बर्बाद किया जबकि लोजपा संसदीय बोर्ड का कहना था कि उन्हें बिना समय गंवाये संप्रग या राजग में जाने को लेकर निर्णय ले लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि उन्हें यह अंदाजा हो गया था कि इसी तरह गठबंधन के मामले को खींचकर चुनाव की घोषणा तक ये दोनों दल ले जाएंगे और अंत में लोजपा को दो-तीन सीट देने की पेशकश कर उससे कहते कि उन सीटों पर चुनाव लडऩा है तो लड़ो नहीं तो अपना रास्ता अलग करो। पासवान ने कहा कि राजग में उनकी पार्टी के जाने का सबसे बड़ा कारण उनके द्वारा अपमानित और किनारे कर दिया जाना था और लोग समझने लगे थे कि लोजपा का कोई अपना आस्तित्व ही नहीं है तथा कार्यकर्ताओं को जगह-जगह अपमानित होना पड़ रहा था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राजद के साथ गठबंधन को लेकर अनिश्चितता के कारण लोजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के बागी रुख अख्तयार करते देख उन्हें राजग में जाने का फैसला लेना पड़ा। यह पूछे जाने पर कि कैसे वे अपने मतदाताओं को समझाएंगे पासवान ने कहा कि उनका मतदाता उनसे आगे है और उनकी मांग थी कि हमें राजग के साथ जाने का निर्णय लेना चाहिए बल्कि राजग में अब जाने के बाद मतदाताओं का कहना है कि ये निर्णय उन्होंने पहले क्यों नहीं लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You