बिहार में हथियार और जाली नोट की मांग बढ़ी

  •  बिहार में हथियार और जाली नोट की मांग बढ़ी
You Are HereBihar
Friday, March 07, 2014-2:36 PM

पटना: अपराध एवं अपराधियों के मामले में बदनाम रहे बिहार में चुनाव की आहट के साथ ही हथियार तथा जाली नोट की मांग बढऩे लगी है।
 मुंगेर जिले के मुफस्सिल थाना के मुबारक चक गांव से पुलिस ने पिछले छह फरवरी को एक अवैध मिनी फैक्ट्री का पता लगाकर 300 से अधिक देशी पिस्तौल बरामद किया था। इस सिलसिले में पुलिस ने संचालक और कुछ कारीगरों को गिरफ्तार कर पूछताछ की थी जिससे पता चला था कि हथियारों को लोकसभा चुनाव के दौरान अपराधियों को उपलब्ध कराया जाना था। इन हथियारों की आपूर्ति करने के एवज में बयाने के रुप में राशि भी ली गयी थी।

पटना जिले के नौबतपुर थाना के दीनाचक गांव के निकट एक खेत से पुलिस ने पिछले नौ फरवरी को एक देशी रायफल,दो पिस्तौल और कारतूस बरामद किया था। बरामदगी के बाद छानबीन से यह पता चला कि अपराधी चुनाव में गड़बड़ी फैलाने के इरादे से इन हथियारों की खेप देने के लिए आये हुए थे। लेकिन पुलिस की भनक मिलते ही अपराधी इसे खेत में फेंक कर फरार हो गये।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You