हाथी की सवारी करना चाहते हैं बुखारी...!

  • हाथी की सवारी करना चाहते हैं बुखारी...!
You Are HereUttar Pradesh
Tuesday, March 11, 2014-5:17 PM

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में आगामी लोकसभा चुनाव में दलित-मुस्लिम गठजोड़ बनाने के प्रयास के तहत दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच बातचीत आखिरी दौर में है। माना जा रहा है कि इस महीने के अंत तक दोनों के साथ आने के संबंध में कोई ऐलान हो सकता है। बीते सोमवार को लखनऊ में बुखारी के तीन प्रतिनिधियों ने बसपा के वरिष्ठ नेता एवं मायावती के करीबी नसीमुद्दीन सिद्दीकी से मुलाकात की।

इस दौरान बुखारी की ओर से बसपा को समर्थन करने के लिए कुछ मुद्दे रखे गए। इनमें मुसलमानों की शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार से जुड़े मुद्दों के अलावा आतंकवाद के मामलों में मुस्लिम युवकों की गिरफ्तारी एवं आरक्षण जैसे बिंदु भी शामिल हैं। बुखारी ने आज इस संदर्भ में ‘भाषा’ से कहा, ‘‘हमारी कोशिश है कि उत्तर प्रदेश में दलित और मुसलमान एकसाथ आ जाएं। इसी को लेकर हम बातचीत कर रहे हैं। कुछ मुद्दे हमने बसपा के सामने रखे हैं और उम्मीद है कि पार्टी जल्द उन पर अपना जवाब दे देगी।

इसके बाद हम समर्थन के संदर्भ में अंतिम फैसला करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने स्पष्ट कर दिया है कि बसपा को समर्थन करने के लिए हमारी कोई शर्त नहीं होगी। हम सिर्फ मुसलमानों से जुड़े कुछ मुद्दों पर पार्टी का नजरिया जानना चाहते हैं।’’ उधर, बसपा के एक वरिष्ठ नेता ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया, ‘‘बुखारी और उनके लोगों के साथ हमारी बातचीत आखिरी दौर में है। इस महीने के आखिर तक बुखारी की ओर से समर्थन का ऐलान हो सकता है। इतना जरूर कह दूं कि इस पर आखिरी फैसला बहनजी (मायावती) को करना है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You