दागी नेताओं को टिकट देने पर कांग्रेस के भीतर विरोधी सुर

  • दागी नेताओं को टिकट देने पर कांग्रेस के भीतर विरोधी सुर
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-12:07 AM

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार के मामलों का समाना कर रहे नेताओं को चुनाव में टिकट देने के मुद्दे को लेकर कांग्रेस आज दुविधा में बनी रही। पार्टी के एक वर्ग ने चेतावनी दी है कि ऐसे दागी नेताओं को मैदान में उतारने से पार्टी को भारी नुकसान होगा। ऐसे समय में जब राहुल गांधी आगामी लोकसभा चुनाव में भ्रष्टाचार को एक बड़ा मुद्दा बनाने का प्रयास कर रहे हैं, पार्टी के अंदर यह भी राय है कि एक बुनियादी मापदंड का पालन होना चाहिए ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि नेताओं को राजनीतिक द्वेष के चलते टिकट से वंचित नहीं होना पड़े।

कांग्रेस ने शनिवार को अपने 194 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। पार्टी ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल और उनकी चंडीगढ़ सीट के भविष्य बारे में कोई घोषणा नहीं की है और न न ही सुरेश कलमाडी और अशोक चव्हाण को चुनाव मैदान में उतारने के बारे में कुछ कहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने यहां पार्टी ब्रीफिंग में संवाददाताओं के सवालों का जवाब देते हुए कहा, ‘‘आपको अटकल लगाने की स्वतंत्रता है। हमें यह स्वतंत्रता नहीं है। पहले इन सीटों के बारे में फैसला आने दीजिये। फिर हम इसपर टिप्पणी करेंगे। हम यहां अटकल लगाने के लिए नहीं हैं। उन्होंने कहा, हमें इन सवालों का जवाब क्यों देना चाहिए। जिस दिन चंडीगढ़ सीट के लिए उम्मीदवार की घोषणा होगी मैं इसका जवाब दूंगा।’’ इस बीच पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि इन मुद्दों पर स्पष्टता की जरूरत है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You