कोर्ट में नहीं पेश हुए जोशी दंपती, सुनवाई 14 मार्च तक टली

  • कोर्ट में नहीं पेश हुए जोशी दंपती, सुनवाई 14 मार्च तक टली
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-5:04 PM

भोपाल: भारतीय प्रशासनिक सेवा के निलंबित अधिकारी दंपती अरविंद जोशी और टीनू जोशी कल भी अदालत में पेश नहीं हुए। उनके वकील ने अदालत में आवेदन प्रस्तुत कर कहा कि वे किसी कारण से उपस्थित नहीं हो पाए हैं। वकील के आवेदन के आधार पर अपर सत्र न्यायाधीश वी के द्विवेदी ने सुनवाई की अगली तिथि 14 मार्च तय की है। अरविंद के माता-पिता जरुर अदालत में पेश हुए। अदालत ने उनकी जमानत भी मंजूर कर ली है। लोकायुक्त पुलिस ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में गत एक मार्च को निलंबित आईएएस दंपती अरविंद एवं टीनू जोशी सहित डेढ़ दर्जन आरोपियों के खिलाफ चालान पेश किया था। इनमें उनके रिश्तेदार और दोस्त भी शामिल थे।

पुलिस ने जिस दिन अदालत में चालान पेश किया था, उसी दिन जोशी दंपती को अदालत में हाजिर होना था। तब अरविंद और टीनू इसलिए पेश नहीं हुए थे कि उन्हें नोटिस नहीं मिला था। उसके बाद अदालत ने जोशी दंपती के पेश होने के लिए ग्यारह मार्च की तिथि तय की थी। उस लिहाज से उन्हें कल अदालत में पेश होना था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। जोशी दंपती की ओर से उनके वकील ने अदालत में एक आवेदन पेश कर कहा कि किसी अपरिहार्य कारण से उनके मुवक्किल अदालत में पेश नहीं हो पाए हैं। इसलिए उनकी ओर से पेश जमानत अर्जी पर सुनवाई के लिए तारीख आगे बढ़ाई जाए।

अदालत ने उनके आवेदन को स्वीकार करते हुए 14 मार्च की तारीख तय की है। अब उनके जमानत आवेदन पर 14 मार्च को सुनवाई होगी। अरविंद के पिता एवं प्रदेश के सेवानिवृत्त डीजीपी एचएम जोशी और उनकी मां निर्मला जोशी पहले से तय तारीख पर अदालत पहुंचे गए थे। अदालत ने उनकी जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए दोनों को दो-दो लाख रुपए के मुचलके पर जमानत दे दी है। जोशी दंपती की जमानत अर्जी पर सुनवाई करने के अलावा मामले की अगली पेशी 22 मार्च को होगी। यह तिथि अदालत ने चालान पेश करने वाले दिन ही तय कर दी थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You