मोदी की लहर नहीं, BJP हताशा में ढूंढ रही है सहयोगी: सपा

  • मोदी की लहर नहीं, BJP हताशा में ढूंढ रही है सहयोगी: सपा
You Are HereNational
Friday, March 14, 2014-1:55 PM

नर्इ दिल्ली: समाजवादी पार्टी (सपा) ने देश में नरेंद्र मोदी की लहर के दावों को खारिज करते हुए कहा है कि अगर ऐसा माहौल होता तो भाजपा के बड़े नेता सुरक्षित सीट नहीं ढूंढते और इस राष्ट्रीय पार्टी को ‘हताशा’ में छोटे-छोटे दलों से गठबंधन करने की जुगत नहीं करनी पड़ती।
 
सपा महासचिव नरेश अग्रवाल ने आज मीडिया को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘यदि मोदी की लहर होती तो फिर ये छोटे-छोटे दलों से समझौता क्यों कर रहे हैं ? अपना दल-पराया दल, पता नहीं किन किन दलों को साथ लेने की कोशिश में हैं। इन दलों का कोई अपना अस्तित्व नहीं है।

 भाजपा में कहीं न कहीं हताशा है। अगर लहर है तो देश में भाजपा को अकेले चुनाव लडऩा चाहिए। वह सहयोगियों की तलाश क्यों कर रही है ? ’’उन्होंने कहा, ‘‘वास्तविकता यह है कि भाजपा की अपनी अंदरूनी स्थिति के बारे में पता है। उसे मालूम है कि वह सत्ता में नहीं आ रही है। अगर इस पार्टी के पक्ष में कोई माहौल होता तो उसके नेता सुरक्षित सीट नहीं ढूंढते और सहयोगियों की तलाश नहीं करते।’’
 
अग्रवाल ने चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों को खारिज करते हुए कहा, ‘‘आज तक कोई सर्वेक्षण सपा के पक्ष में नहीं रहा है। वास्तविक परिणाम इन सर्वेक्षणों से उलट होते हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भी ये सर्वेक्षण गलत साबित हुए। मीडिया में सिर्फ भाजपा के पक्ष में माहौल बनाया जा रहा है।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You