जनता तक पहुंच बनाने का साधन है होली

  • जनता तक पहुंच बनाने का साधन है होली
You Are HerePolitics
Sunday, March 16, 2014-4:36 PM

कोलकाता: लोकसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही सभी दलों के उम्मीदवारों ने आज रंगों के त्योहार होली का इस्तेमाल अपने- अपने क्षेत्रों में लोगों तक पहुंच बनाने के लिए किया। देश के इस हिस्से में होली ‘दोलयात्रा’ के तौर पर नृत्य संगीत के साथ मनाई जाती है। तृणमूल कांग्रेस सांसद एवं हावड़ा से उम्मीदवार प्रसुन बनर्जी ने इस लोकसभा क्षेत्र में होली पार्टी समर्थकों और स्थानीय लोगों के साथ मनाई।

 

बनर्जी ने कहा, ‘‘अन्य त्योहारों की तरह मैं अपने क्षेत्र के लोगों के साथ होली मनाना पसंद करता हूं। आज राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है, सभी ओर केवल रंग हैं।’’ हावड़ा से भाजपा उम्मीदवार एवं जाने-माने अभिनेता जॉर्ज बेकर ने कहा, ‘‘मैं यह त्योहार हावड़ा के लोगों के साथ मनाकर बहुत खुश हूं। आशा करता हूं कि इस आनंद को 16 मई को भी बरकरार रखेंगे।’’ हावड़ा के अन्य उम्मीवारों की तरह ही जाधवपुुर और कोलकाता उत्तर से माकपा उम्मीदवार क्रमश: सुजान चक्रवर्ती और रूपा बागची भी अपने अपने क्षेत्रों में होली मनाते हुए दिखे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You