भाजपा की ‘चाय पे चर्चा’ बन गया है संकट का सबब

  •  भाजपा की ‘चाय पे चर्चा’ बन गया है संकट का सबब
You Are HereNational
Sunday, March 16, 2014-11:15 PM

नई दिल्ली : नरेन्द्र मोदी के साथ भाजपा की ‘चाय पे चर्चा ’ कार्यक्रम को लेकर चुनाव अधिकारियों ने उत्तर प्रदेश में पार्टी के कुछ नेताओं के खिलाफ मतदाताओं को प्रलोभन देने का एक मामला दर्ज किया है। चुनाव अधिकारियों ने कहा है कि वे मुफ्त चाय बांटने को मतदाताओं को प्रलोभन देना जैसा मानते हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी उमेश सिन्हा ने पीटीआई को बताया कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान किसी तरह से रिझाने या प्रलोभन देने की इजाजत कानून में नहीं है।

शीर्ष चुनाव अधिकारियों ने बताया कि कुछ स्थानीय भाजपा नेताओं के खिलाफ आईपीसी के प्रावधानों के तहत लखीमपुर खीरी जिला के मोहम्मादी में कोतवाली पुलिस थाना में एक मामला दर्ज किया गया है। दरअसल, चुनाव आयोग के मुताबिक चुनाव प्रक्रिया के दौरान मतदाताओं को रिझाने की किसी भी प्रकार की कोशिश की कानून एवं आचार संहिता के तहत इजाजत नहीं है। भाजपा की योजना देशभर में ‘नमो के साथ चाय पे चर्चा’ कार्यक्रम का आयोजन 20 मार्च को करने का है जब प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी किसानों के सवालों से रूबरू होंंगे।

यह कार्यक्रम उत्तर प्रदेश में पहले ही परेशानी का सबब बन चुका है। आयोग ने मतदाताओं को कथित तौर पर प्रलोभन देने या रिझाने को लेकर भाजपा के कुछ नेताओं के खिलाफ वहां एक मामला दर्ज किया है। दरअसल, भाजपा नेताओं ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए मुफ्त चाय बांटी थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You