चीन के हाथों भारत की अपमानजनक पराजय के लिए नेहरू जिम्मेदार: रिपोर्ट

  • चीन के हाथों भारत की अपमानजनक पराजय के लिए नेहरू जिम्मेदार: रिपोर्ट
You Are HereNational
Tuesday, March 18, 2014-5:24 PM

नई दिल्ली: एक रिपोर्ट में 1962 में चीन के खिलाफ हुए युद्ध में भारत की अपमानजनक पराजय के लिए पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू सरकार और तत्कालीन सैन्य नेतृत्व को जिम्मेदार ठहराया गया है। एक आस्ट्रेलियाई पत्रकार ने हेंडर्सन ब्रुक्स की रिपोर्ट के हवाले से यह दावा किया है। हेंडर्सन ब्रुक्स रिपोर्ट को अभी भी आधिकारिक तौर पर गुप्त रख गया है। इस रिपोर्ट में ‘‘आगे बढऩे की नीति’’ और उसका पालन करने वाली सेना में गंभीर खामियोंं की बात कही गई है क्योंकि सेना के पास इसके लिए जरूरी साधन उपलब्ध नहीं थे।

 

रक्षा पत्रिका इंडियन डिफेंस रिव्यू ने पत्रकार नेविले मैक्सवेल द्वारा जारी रिपोर्ट के कुछ हिस्से सबसे पहले अपनी वेबसाइट पर डाल दिए। मैक्सवेल ने युद्ध की व्यापक रिपोर्टिंग की थी और उन्होंने हेंडर्सन ब्रुक्स रिपोर्ट के कुछ हिस्से को अपनी वेबसाइट पर जारी किया था। सार्वजनिक की गई सामग्री पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है। हेंडर्सन रिपोर्ट में तत्कालीन सरकार, सेना और गुप्तचर एजेंसियों की इस धारणा के लिए उनकी आलोचना की है कि चीनी युद्ध को बढ़ावा नहीं देंगे जब सैन्य तरीके से उन्हें इसके ‘‘बिल्कुल विपरीत’’ सोचना चाहिए था।

 

रिपोर्ट में कहा गया है कि आगे बढऩे की नीति में चीन के दावे वाले क्षेत्रों में सैन्य चौकियां बनाने तथा आक्रामक गश्त शुरू करने की बात कही गई थी। इससे संघर्ष की संभावना बढ़ गई। रिपोर्ट के अनुसार भारत इसे क्रियान्वित करने के लिए सैन्य रूप से सक्षम नहीं था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You