शिक्षक लेंगे हिन्दी लेखन का प्रशिक्षण

  • शिक्षक लेंगे हिन्दी लेखन का प्रशिक्षण
You Are HereNational
Friday, March 21, 2014-11:32 AM

नई दिल्ली : दिल्ली विवि के छात्रों के लिए हिन्दी में पाठ्यक्रम की समस्या से छात्र जुझते रहते है। डी.यू. में अधिकतर सामग्री अंग्रेजी माध्यम में है,ऐसे में हिन्दी के छात्रों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस परेशानी को दूर करने के लिए बकायदा डी.यू. में हिन्दी अध्ययन सामग्री निर्माण के लिए अलग से विभाग भी बनाया हुआ है।

अब डी.यू. में मंगलवार से हिन्दी माध्यम में अध्ययन सामग्री निर्माण पर 2 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन होने जा रहा है। यहां अध्यापकों को हिन्दी लेखन-पाठन की जानकारी दी जाएगी। कार्यशाला का आयोजन जीवन पर्यंत शिक्षण संस्थान द्वारा किया जा रहा है। कार्यशाला में 4 वर्षीय पूर्व स्नातक कार्यक्रम के अंतर्गत समाजिक विज्ञान एवं मानविकी विषयों की पुस्तकों के प्रकाशन हेतु दिल्ली विवि के विभागों एवं कॉलेजों में कार्यरत शिक्षकों को बुलाया जाएगा।

कार्यशाला में भाग लेने के लिए इतिहास, राजनीति विज्ञान, अर्थशास्त्र और भूगोल विषयों के शिक्षकों को आमंत्रित किया गया है। विशेषकर ऐसे शिक्षकों को जिन्हे अध्यापन अनुभव के साथ-साथ हिन्दी माध्यम भाषा का सामान्य ज्ञान है,मगर हिन्दी में लिखने का अभ्यास नहीं। शिक्षकों को जीवनपर्यंत शिक्षण संस्थान की पुस्तक निर्माण परियोजना एवं हिन्दी में लेखने के विविध पहलुओं की जानकारी दी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You