मैं बताऊंगा क्‍या असली बीजेपी है या नकली: जसवंत सिंह

You Are HereRajasthan
Saturday, March 22, 2014-3:45 PM

नई दिल्ली: टिकट नहीं मिलने से आहत भाजपा के वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह ने आज बाड़मेर सीट की अपनी मांग पर कोई समझौता करने से इंकार कर दिया और ऐसा प्रतीत होता है कि उन्होंने इस सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लडऩे का विकल्प खुला रखा है।  सिंह ने पार्टी नेतृत्व पर निशाना साधा लेकिन किसी का नाम नहीं लिया। उनकी टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह और वरिष्ठ नेता अरूण जेटली ने उपयुक्त तरीके से सिंह की सेवाएं लेने की बात कही है।

कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए कर्नल सोनाराम चौधरी को बाड़मेर से टिकट दिये जाने के एक दिन बाद सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ पार्टी मेरे साथ दो बार ऐसा कर चुकी है और अब वैकल्पिक प्रस्ताव स्वीकार करने की कोई संभावना नहीं है।’’  सिंह कल बाड़मेर पहुंचेगे हालांकि उन्होंने अपनी योजनाओं के बारे में कुछ भी बताने से इंकार किया। 

उन्होंने कहा, ‘‘ बाड़मेर पहुंचने के बाद ही सभी बातों पर निर्णय करूंगा और अपने समर्थकों के साथ चर्चा करूंगा।’’ टिकट नहीं दिये जाने और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का असम्मान किये जाने का जिक्र करते उन्होंने कहा, ‘‘ दुर्भाग्य से विचाराधारा वाली पार्टी का अतिक्रमण ऐसे लोग कर रहे हैं जो भाजपा की विचारधारा के विरोधी रहे थे।’’  उन्होंने किसी का नाम लिये बिना कहा, ‘‘ यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भाजपा को इन तत्वों (बाहरी) ने पूरी तरह से नियंत्रण में ले लिया है, जिन्हें पार्टी की विचारधारा के प्रति कोई सम्मान नहीं है।’’ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भाजपा अब दो गुटों में बंट गई है, एक जो वास्तविक है और दूसरी जो नकली है। और दुर्भाग्य से नकली के हाथों में अब पार्टी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You