कांग्रेस का घोषणापत्र जारी, 2017 तक 250 शहरों में पक्के मकान

You Are HereNcr
Wednesday, March 26, 2014-4:35 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी आज अपना घोषणापत्र जारी कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राहुल गांधी सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता कांग्रेस मुख्यालय में उपस्थित हैं।

घोषणापत्र जारी करने से पहले ये बोले कांग्रेस नेता

एके एंटनी: एके एंटनी ने कहा कि इस बार का घोषणा पत्र कुछ अलग है। घोषणापत्र तैयार करने से पहले उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने 27 जगह के लोगों से बातचीत की।

राहुल गांधी: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि घोषणापत्र नए तरीके से बनाया गया। इसे बनाने से पहले लोगों से सुझाव लिया गया। राहुल ने कहा कि हमने कारोबारियों से भी इस संबंधी राय ली तभी घोषणापत्र तैयार किया। उन्होंने कहा कि घोषणापत्र पर गरीबों की आवाज है और इससे जरूरतमंदो को सब्सिडी का लाभ मिलेगा। राहुल गांधी ने बुधवार को लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की संभावित जीत की धारणा को चुनौती देते हुए कहा, ‘‘यह गुब्बारा फट जाएगा।’’ राहुल ने मीडिया से कहा कि 2004 लोकसभा चुनाव के पहले इसके ‘इंडिया शाइनिंग’ प्रचार अभियान के बावजूद इसे कांग्रेस से हार मिली थी।

 

मनमोहन सिंह: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि कांग्रेस का रिकॉर्ड सबके सामने है। यूपीए-1 में ग्रोथ रेट 8 फीसदी से ज्यादा और यूपीए-2 में 7 फीसदी से ज्यादा रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि घोषणापत्र में समाज के सभी वर्गों, किसानों, अनुसूचित जाति-जनजातियों, महिलाओं और बच्चों की जरूरतों पर ध्यान दिया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘यह दस्तावेज आगे की तरफ देखता है। यह देश की जनता की जरूरतों पर ध्यान देता है।’’

सोनिया गांधी: पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी ने घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि इसे पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के देश के विभिन्न स्थानों के लोगों से बातचीत करने के बाद तैयार किया गया है। सोनिया ने कहा, ‘‘राहुल ने देश के विभिन्न हिस्सों के लोगों से संपर्क किया और उनके सुझाव और इच्छाओं को जाना। सभी सुझावों को उसमें शामिल करना आसान नहीं था, लिहाजा हम अन्य सुझावों को अगले कुछ दिनों में पेश करेंगे।’’

ये हैं घोषणा पत्र में कांग्रेस के वादे

-विकलांगों को पेंशन मिलेगी

-लोगों को घर का अधिकार मिलेगा

-सभी देशवासियों के लिए स्वास्थ्य के अधिकार का वादा, 

-गरीब भूमिहीनों को घर का वादा, विस्तृत पेंशन सुरक्षा

-आवास योजना के तहत 2017 तक 250 शहरों में झुग्गी-झोपड़ी की जगह पक्के मकान बनाए जाएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You