हाईकोर्ट में अमृता की याचिका मंजूर, जारी होंगे नोटिस

  • हाईकोर्ट में अमृता की याचिका मंजूर, जारी होंगे नोटिस
You Are HereNational
Wednesday, March 26, 2014-4:34 PM

भोपाल: मध्य प्रदेश के इंदौर हाईकोर्ट ने पुलिस सब इंस्पेक्टर अमृता सोलंकी की उस याचिका को स्वीकार कर लिया है, जिसमें उन्होंने ड्यूटी के दौरान तात्कालिक चुनाव पर्यवेक्षक गयाप्रसाद पर अभद्रता का आरोप लगाया है। कोर्ट अब तात्कालिक चुनाव पर्यवेक्षक(अब उपायुक्त मेरठ) गयाप्रसाद, मप्र के गृह विभाग, आईजी भोपाल, एसपी राजगढ़, चुनाव आयोग, महिला आयोग, डीपीओ राजगढ़ को नोटिस भेज रहा है। अमृता ने इस मामले में डीजीपी और महिला आयोग में भी शिकायत की थी।

जानकारी के मुताबिक, विधानसभा चुनाव के दौरान तात्कालिक चुनाव पर्यवेक्षक गयाप्रसाद और ड्यूटी पर तैनात सब इंस्पेक्टर अमृता सोलंकी के बीच चैकिंग को लेकर विवाद हो गया था। इस घटना से क्षुब्ध होकर अमृता ने 23 नवंबर, 2013 को अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया था, जिसे करीब दो महीने बाद यानी 20 जनवरी, 2014 को पुलिस विभाग ने अपर्याप्त कारण बताते हुए नामंजूर कर दिया। परंतु सोलंकी का कहना है कि इस्तीफा नामंजूर होना मेरे साथ कोई न्याय नहीं है। मैं तब तक नौकरी ज्वाइन नहीं करूंगी, जब तक इस मामले में कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाती।

अमृता ने फेसबुक पर एक पेज ‘फाइट फॉर सेल्फ रेस्पेक्ट’ बनाकर अपनी लड़ाई जारी रखी। अमृता की इस मुहिम को कई लोगों का सपोर्ट भी मिला है। अमृता संभवत: मप्र पुलिस की ऐसी पहली महिला पुलिस होंगी, जिन्होंने सोशल साइट के जरिये भी अपनी लड़ाई जारी रखी हुई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You