खुर्शीद और पुलिस के बीच शुरू हुई अहम की जंग

  • खुर्शीद और पुलिस के बीच शुरू हुई अहम की जंग
You Are HereNational
Friday, March 28, 2014-4:02 PM

फर्रुखाबाद: चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किये जाने को लेकर विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद और पुलिस के अधिकारियों के बीच अहम की जंग शुरू हो गई है। पुलिस द्वारा नवाबगंज अस्पताल में खुर्शीद के जाकिर हुसैन ट्रस्ट की तरफ से वितरण के लिये ट्राइसाइकिल तथा विकलांगों के इस्तेमाल के उपकरणों की बरामदगी के बाद उनके खिलाफ हाल में आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किये जाने से नाराज केन्द्रीय विदेश मंत्री ने संवाददाताओं से कहा ‘‘अगर मैं अस्पताल में मौजूद होता तो बिना वारण्ट के वहां घुसने वाले पुलिसकर्मियों को बंधक बनवा लेता।’’

उन्होंने कहा कि उन्हें अपने खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज होने की जानकारी नीदरलैण्ड्स में परमाणु सुरक्षा से सम्बन्धित एक बैठक में शिरकत के दौरान मिली और विदेशी लोगों ने इंटरनेट पर वह खबर पढ़कर उनका मजाक उड़ाया। खुर्शीद ने कहा ‘‘पुलिस को आचार संहिता के उल्लंघन का मतलब ही नहीं पता है। उल्लंघन तब होता है जब चुनाव प्रभावित हो। यह पुलिस का तानाशाही रवैया ही कहा जाएगा। देश में कानून-व्यवस्था नाम की चीज है या नहीं, इसका जवाब अधिकारी दें, नहीं तो मैं जवाब दूंगा।’’


गौरतलब है कि खुर्शीद के खिलाफ गत 23 मार्च को उनके संसदीय निर्वाचन क्षेत्र फर्रुखाबाद में आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने बौरा गांव के पास एक ट्रैक्टर-ट्राली पर सौर बिजली उपकरण, खम्बे तथा अन्य सम्बन्धित चीजें बरामद की थीं। पता लगा था कि वे सौर उपकरण विदेश मंत्री और फर्रुखाबाद क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी सलमान खुर्शीद के कोल्ड स्टोरेज से लादकर भेजे गये हैं। इसके अलावा नवाबगंज के अस्पताल के गोदाम से भी विकलांगों की ट्राइसाइकिलें बरामद की गयी थीं। दूसरी ओर, कानपुर परिक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक आर. के. चतुर्वेदी ने खुर्शीद की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कोई भी मंत्री कानून से उपर नहीं हो सकता।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You