'पाकिस्तान से मामला सुलझाए बगैर नहीं खत्म होगा आतंकवाद'

  • 'पाकिस्तान से मामला सुलझाए बगैर नहीं खत्म होगा आतंकवाद'
You Are HereJammu Kashmir
Saturday, March 29, 2014-12:59 PM

श्रीनगर: कठुआ में ताजा आतंकवादी हमले की पृष्ठभूमि में सत्ताधारी नेशनल कांफ्रेस के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री फारूक अब्दुल्ला ने आज कहा कि भारत और पाकिस्तान को एक साथ बैठने की जरूरत है ताकि वे जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को खत्म करने के लिए निर्णायक बातचीत कर सकें।

श्रीनगर लोकसभा सीट से नेशनल कांफ्रेस के उम्मीदवार अब्दुल्ला ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह (कठुआ में हुआ हमला) इस बात का सबूत है कि हमारे पड़ोस में आतंकवाद नहीं थमा है। मैं एक बात साफ कर दूं कि पाकिस्तान से मामला सुलझाए बगैर आतंकवाद खत्म नहीं होगा।’’

उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच की बातचीत बहुत निर्णायक होनी चाहिए ताकि आतंकवाद का खात्मा हो वरना जम्मू-कश्मीर के लोग मुश्किलें झेलते रहेंगे और आतंकवादी सीमा पार करना जारी रखेंगे। अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘नियंत्रण रेखा को आप कितना भी अभेद्य क्यों न बना दें, वे (आतंकवादी) फिर भी घुस आएंगे, जैसा कि आपने आज कठुआ में देखा।

लिहाजा, मैंने हमेशा यह बात कही है, सिर्फ यहां नहीं बल्कि भारतीय संसद में भी कही है, कि भारत और पाकिस्तान को मिल बैठकर मुद्दों का जल्द से जल्द समाधान तलाशना चाहिए ताकि आतंकवाद का खात्मा हो सके।’’ इस बीच, ग्वालियर के पास भारतीय वायुसेना के सी-130जे मालवाहक विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने और चालक दल के पांच सदस्यों की मौत पर अब्दुल्ला ने गहरा दुख व्यक्त किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You