नवरात्रों से रैलियों की धमाकेदार शुरुआत कर रहे हैं राहुल

  • नवरात्रों से रैलियों की धमाकेदार शुरुआत कर रहे हैं राहुल
You Are HereNational
Saturday, March 29, 2014-6:02 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्तर पर अपने प्रतिद्वंद्वी नरेंद्र मोदी के रैलियों के अभियान का मुकाबला करने के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने 31 मार्च को पहले नवरात्र से लेकर उसके बाद के छह दिन में दर्जन रैलियों को सम्बोधित करने का कार्यक्रम बनाया है। ये अधिकांश जनसभाएं नक्सल प्रभावित इलाकों में हैं।

भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार मोदी ने कल माओवादी ङ्क्षहसा से प्रभावित इलाकों में रैलियां की थीं। राहुल की ये चुनाव रैलियां सात राज्यों में फैली हैं। इनमें ओडिशा, झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और केरल शामिल हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष के कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार राहुल दो अप्रैल
को रायबरेली में होंगे जब उनकी मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस चुनाव क्षेत्र से नामांकन भरेंगी। भाजपा ने अभी इस सीट से अपने-अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है।

राहुल 31 मार्च को ओडिशा के कोरापुट, नबरंगपुर और इसके बाद छत्तीसगढ़ के बस्तर में चुनाव सभाओं को सम्बोधित करेंगे। अगले दिन वह झारखंड के गोड्डा, गुमला की लोहरदग्गा सीट और बिहार के औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र में जनसभाएं करेंगे। ये लगभग सभी इलाके माओवादी हिंसा से प्रभावित रहे हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष का चार अप्रैल को महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में चुनाव सभाओं का कार्यक्रम है। महाराष्ट्र में वह यवतमाल और कर्नाटक के बेल्लारी में रैलियां कर रहे हैं। बेल्लारी में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एक बार चुनाव जीत चुकी हैं।

शनिवार को राहुल केरल में तीन जगह रैलियां सम्बोधित करेंगे। इनमें इडुक्की, चेंगानूर और अट्टिनल के संसदीय क्षेत्र शामिल हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You