पूर्वोत्तर दिल्ली के मुद्दों से अनजान नहीं हूं : आनंद कुमार

  • पूर्वोत्तर दिल्ली के मुद्दों से अनजान नहीं हूं : आनंद कुमार
You Are HereNcr
Sunday, March 30, 2014-4:51 PM
नई दिल्ली  : पूर्वोत्तर दिल्ली से आप उम्मीदवार जेएनयू प्रोफेसर आनंद कुमार का मानना है कि जनता की बदलाव के लिए तड़प कांग्रेस के इस गढ़ में उनकी जीत सुनिश्चित करेगी जहां पर काफी संख्या में मुस्लिम और अनुसूचित जाति मतदाता हैं। आप के संस्थापक सदस्य कुमार इस आलोचना को खारिज करते हैं कि वह क्षेत्र में बाहरी हैं। वह कहते हैं कि वह क्षेत्र के मुद्दों और समस्याओंं से अपरिचित नहीं हंै। 
 
समाजशास्त्र विषय के 64 वर्षीय प्रोफेसर का कहना है कि मजबूत जनलोकपाल के लिये अभियान ने उन्हें 2011 में अरविंद केजरीवाल के साथ हाथ मिलाने के लिए प्रोत्साहित किया। वह उन लोगों में शामिल हैं जिन्होंने 2011 में केजरीवाल, अन्ना हजारे और गोपाल राय से अनशन समाप्त करने तथा लोगों की आकांक्षाओं के मुताबिक राजनीतिक विकल्प मुहैया कराने पर विचार करने का आग्रह किया था।
 
उन्होंने कहा, ‘‘सही सोच वाले सभी लोगों से लोकतांत्रिक संस्थाओं को बचाने के आह्वान के बाद मेरी रूचि राजनीतिक संघर्ष में उतरने में हुई।’’वाराणसी के मूल निवासी कुमार बनारस हिंदू विश्वविद्यालय और जेएनयू में छात्र संघ अध्यक्ष रह चुके हैं। 
 
वह कांग्रेस के वर्तमान सांसद जे पी अग्रवाल और भाजपा के मनोज तिवारी के खिलाफ मैदान में उतरे हैं। उनका कहना है कि वह 1996 से ही युवा और लैंगिक न्याय के मुद्दों पर क्षेत्र से जुड़े हुए हैं । उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत 1964 में की और राम मनोहर लोहिया के समाजवादी आंदोलन से जुड़े। 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You