एक मंदिर यहां चढ़ता है इडली-डोसा!

  • एक मंदिर यहां चढ़ता है इडली-डोसा!
You Are HereChhattisgarh
Monday, March 31, 2014-7:05 PM

रायपुर: मंदिरों में माता के भोग के लिए फल-फूल और मिठाइयों का चढ़ावा तो आम है, मगर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के चिंगराजपारा स्थित मंदिर में मां धूमावती को इडली-डोसा का भोग लगाया जाता है। एक बात और कि मां धूमावती के मंदिर में पूजा केवल शनिवार को होती है।

शिव-शक्ति दुर्गा मंदिर परिसर में स्थापित मां धूमावती मंदिर में माता के दर्शन के लिए कतार में खड़े श्रद्धालुओं के हाथों में फूल-माला के थाल और मिठाई, फल-फूल के स्थान पर थाली में इडली-डोसा, मिर्ची भजिया जैसे चटपटे व्यंजन लेकर द्वार पर खड़े रहते हैं। मंदिर में पूजा-पाठ के बाद लोगों को इसका प्रसाद भी मिलता है।

मंदिर के व्यवस्थापक देवानंद महाराज के मुताबिक, देश में मां धूमावती के दो ही एकलपीठ हैं। पहला मध्य प्रदेश के दतिया जिले में, दूसरा बिलासपुर में। उनका दावा है कि वर्ष 1962 के भारत-चीन युद्ध में जब भारत पर संकट था, तब उन्होंने मां धूमावती की प्रतिमा स्थापित कर तांत्रिक साधना की थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You