गवाह से मारपीट करने के आरोपियों को अदालत का नोटिस

  • गवाह से मारपीट करने के आरोपियों को अदालत का नोटिस
You Are HereNcr
Tuesday, April 01, 2014-9:06 PM

नई दिल्ली: अपहरण के एक मामले में मुकदमे का सामना कर रहे सात लोगों से दिल्ली की एक अदालत ने उनसे हाल ही में साकेत अदालत परिसर में एक गवाह की कथित तौर पर पिटाई करने के मामले में उनकी जमानत रद्द करने वाली याचिका पर जवाब देने को कहा है। जगत सिंह नागर और परवीन नागर पर चार अन्य लोगों के साथ मिलकर कथित तौर पर एक डॉक्टर की पिटाई का आरोप है।

उक्त सभी मार्च 2010 में एक चालक का अपहरण करने और लूटपाट करने के आरोपी हैं और डॉक्टर इस वाहन का मालिक था और गवाह के तौर पर बयान देने आया था। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश जितेंद्र मिश्रा ने आरोपियों की जमानत रद्द करने की रमेश शर्मा की अर्जी पर सातों आरोपियों को 7 अप्रैल तक जवाब देने के लिए नोटिस जारी किया।

रमेश ने अपनी अर्जी में आरोप लगाया था कि मौजूदा मामले में महत्वपूर्ण गवाह डॉक्टर हंस नागर को 1 मार्च को अदालत कक्ष के बाहर खींचा गया और सभी आरोपियों ने कुछ वकीलों की मदद से उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी।

रमेश ने यह भी कहा कि आरोपियों ने हंस नागर को ना केवल मारा पीटा बल्कि गंभीर नतीजे भुगतने की धमकी भी दी।

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You