तबीयत खराब होने का झांसा दे फरार

  •  तबीयत खराब होने का झांसा दे फरार
You Are HereNcr
Friday, April 04, 2014-3:15 PM

नई दिल्ली (महेश चौहान) : दरियागंज पुलिस स्टेशन के 2 पुलिस वालों के कब्जे से एक कैदी उनको गच्चा देकर फरार हो गया। वारदात के वक्त पुलिस वाले कैदी को नजदीक के अस्पताल में मैडीकल कराने के लिए ले जा रहे थे।

मामला सामने आने के बाद देर रात तक इलाके में छापेमारी की गई। जिसके बाद पुलिस ने एक पुख्ता सूचना पर कैदी को गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद स्थानीय पुलिस अधिकारियों की सांस में सांस आई।    

सूत्रों के मुताबिक वारदात 30 मार्च की है। आरोपी समीर उर्फ शोएब (20) को शांति भंग करने के मामले में दरियागंज पुलिस ने गिरफ्तार किया था। आरोपी शोएब नूर इलाही घोंडा में परिवार के साथ रहता है। 

बताया जाता है कि रात  को उसे स्थानीय थाने के हवालात में बंद कर दिया गया लेकिन उसकी कुछ देर बाद अचानक तबीयत खराब होने लगी। पुलिस को तड़के करीब पौने 4 बजे समीर ने तबियत खराब होने की बात कही।

समीर को लेकर सब इंस्पैक्टर प्रवीण और सिपाही जवाहर पैदल ही नजदीक के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल ले जाने लगे। जब वे सड़क पार करके दिल्ली गेट की मदर डेयरी के पास पहुंचे। समीर सिपाही जवाहर से हाथ छुड़ाकर फरार हो गया। 

इस दौरान जवाहर सड़क पर गिर गया। जिससे उसके सिर में चोट भी लग गई। घायल होने के बावजूद जवाहर अपने साथी प्रवीण के साथ आरोपी को पकडऩे के लिए उसके पीछे भागा लेकिन समीर अंधेरे का फायदा उठाकर गलियों में फरार हो गया।

प्रवीण ने इसकी सूचना तुरंत पुलिस अधिकारियों को दी। समीर के खिलाफ हिरासत से भागने का मामला दर्ज किया गया। पुलिस अधिकारियों ने उसको पकडऩे के लिए एक टीम गठित की।

जिसके बाद पूरे दिन पुलिस की टीम अपने मुखबिरों की सहायता से उसके ठिकानों पर छापेमारी करती रही। देर रात एक पुख्ता सूचना के बाद आरोपी समीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You