‘मोदी और शाह के उप्र. में प्रवेश पर लगे पाबंदी’

  • ‘मोदी और शाह के उप्र. में प्रवेश पर लगे पाबंदी’
You Are HereNational
Sunday, April 06, 2014-4:08 PM

लखनऊ: केन्द्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) पर मिलकर लोकसभा चुनाव में साम्प्रदायिकता का जहर घोलने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि चुनाव आयोग को इसका संज्ञान लेना चाहिये और भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी तथा उनकी पार्टी के प्रान्तीय प्रभारी अमित शाह के इस सूबे में दाखिल होने पर रोक लगायी जानी चाहिये।

वर्मा ने यहां संवाददाताओं से कहा ‘‘सपा और भाजपा जानबूझकर चुनाव को साम्प्रदायिक रंग देना चाहते हैं। अमित शाह मोदी और सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के भाषणों की पृष्ठभूमि तैयार कर रहे हैं। चुनाव आयोग को इसका संज्ञान लेते हुए मोदी और शाह के उत्तर प्रदेश में दाखिल होने पर पाबंदी लगा देनी चाहिये।’’ शाह द्वारा बिजनौर में एक भाषण में मुलायम को ‘मुल्ला मुलायम’ कहे जाने का जिक्र करते हुए इस्पात मंत्री ने कहा कि सपा प्रमुख को आज मुजफ्फरनगर में रैली को सम्बोधित करना है, जबकि मोदी अलीगढ़ और बिजनौर में हैं।

दरअसल शाह मोदी और मुलायम के भाषणों की पृष्ठभूमि तैयार करने के मकसद से बयान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि शाह जानबूझकर बयान दे रहे हैं ताकि मुसलमान मतदाता सपा के साथ हो जाएं और हिन्दू वोटों का धु्रवीकरण भाजपा के पक्ष में हो जाए। शाह को उत्तर प्रदेश भाजपा चुनाव अभियान प्रभारी बनाया जाना ही यह साबित करता है कि चुनाव को साम्प्रदायिक रंग देने की तैयारी पहले से ही थी।

मुजफ्फरनगर दंगों को भाजपा और सपा की सुनियोजित हरकत करार देते हुए वर्मा ने कहा कि पिछले साल अयोध्या की चौरासी कोसी परिक्रमा नाकाम होने के बाद ये दोनों पार्टियां और नजदीक आ गयी। उसके बाद ही मुजफ्फरनगर में दंगे हुए। मोदी के बारे में वर्मा ने दोहराया कि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार लोकसभा चुनाव के बाद जेल जाएंगे। उन्होंने कहा ‘‘जिस गोधरा कांड में 32 लोगों को सजा हो चुकी हो, उसमें मोदी निर्दोष कैसे हो सकते हैं।’’वर्मा ने कहा कि केन्द्र में अगली सरकार भी कांग्रेस की अगुवाई वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की ही बनेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You