चुनावी रंग: राहुल भी हुए आडवाणी के फैन!

  • चुनावी रंग: राहुल भी हुए आडवाणी के फैन!
You Are HereNational
Tuesday, April 08, 2014-1:48 PM

नई दिल्ली: चुनाव चीज ही ऐसी है कि पांच साल में दुनिया बदल देती है। पांच साल पहले जो कांग्रेस किसी न किसी मामलें में भाजपा के वरिष्ट नेता लालकृष्‍ण आडवाणी को निशाने पर रखती थी, वहीं कांग्रेस अब आडवाणी को ‘पीएम इन वेटिंग’ का तंज मारने वाली आज उनकी दीवानी होती जा रही है। राहुल गांधी ने भाजपा के भीतर के कथित मतभेदों पर तंज कसते हुए कहा कि लालकृष्ण आडवाणी कभी पार्टी के सबसे बड़े नेता हुआ करते थे, लेकिन अब उन्हें ‘छोटा नेता’ बना दिया गया है।

राहुल ने कर्नाटक के रायचूर में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आडवाणी जी को याद कर सकते हैं जो भाजपा के सबसे बड़े नेता थे वह अब सबसे बड़े नेता नहीं रहे। उन्होंने हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र को विशेष दर्जा देने के संप्रग सरकार के फैसले का हवाला देते हुए आडवाणी का उल्लेख किया। राहुल ने कहा, ‘‘आडवाणी जी कभी पार्टी के सबसे बड़े नेता हुआ करते थे। उन्होंने कहा था कि अगर अनुच्छेद 371 (जे) पारित हो गया तो देश बंट जाएगा। हमने इसे पारित कराया और देश नहीं बंटा। इससे आपको फायदा हुआ एवं आप लोगों को शिक्षा एवं रोजगार मिला।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You