पाक के इस काले कारनामे को रोकेगी नई भारतीय करंसी  !

  • पाक के इस काले कारनामे को रोकेगी नई भारतीय करंसी  !
You Are HerePakistan
Thursday, November 10, 2016-5:33 PM

इस्लामाबाद/ नई दिल्ली: खुफिया एजैंसियां इन नये नोटों की सुरक्षा को लेकर आश्वस्त हैं क्योंकि इन नोटों में जो सुरक्षा मापदंड अपनाए गए हैं, आने वाले कुछ समय तक पाकिस्तान या किसी अन्य आपराधिक नैटवर्क के लिए लगभग नामुमकिन है। दरअसल नए नोटों में कई सुरक्षा फीचर्स दिए गए हैं।

एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत करते हुए सुरक्षा अधिकारी ने  बताया है कि सुरक्षा के लिए लिहाज से इन नोटों पर भरोसा किया जा सकता है। यही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि रॉ और आई.बी. ने पिछले कई महीनों तक खुफिया रूप से छप रहे नोटों की जांच की है। हालांकि इस अधिकारी ने ये बताने से इंकार कर दिया कि नोटों पर किस तरह और कितने सुरक्षा फीचर्स हैं लेकिन इतना आश्वासन जरूर दिया है कि पाकिस्तान के लिए इसकी नकल करना लगभग नामुमकिन है।

  बता दें कि सुरक्षा एजैंसियों के मुताबिक पाकिस्तान बड़ी संख्या में 500 और 1000 के नोट छापा करता था और उसकी ये फैक्ट्री पेशावर में है। इतना ही नहीं जहां पर ये नोट छपते थे वहां पर पाकिस्तानी खुफिया एजैंसी आईएसआईएस की कड़ी निगरानी रहती है। आईएसआई दाऊद इब्राहिम, लश्कर-ए-तैयबा और अन्य अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक समूहों, जैसे अपने नैटवर्क के जरिए यह नकली मुद्रा भारत में पहुंचाता है।

रिजर्व बैंक और सरकार को सौंपी गई अपनी रिपोर्ट में सुरक्षा एजैंसियों ने दावा किया था कि कुछ साल पहले पाकिस्तानी मशीनरी ने नकली भारतीय नोट छापने में जीरो एरर हासिल कर लिया था। एक अनुमान के अनुसार पाकिस्तान हर साल 70 करोड़ रुपए के नकली नोट भारत में भेजता है। इस रकम का इस्तेमाल आतंकवाद और देश में अव्यवस्था फैलाने में भी होता है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You