1984 दंगों पर टिप्पणी को लेकर अकाली दल का राहुल पर हमला

  • 1984 दंगों पर टिप्पणी को लेकर अकाली दल का राहुल पर हमला
You Are HereNational
Tuesday, January 28, 2014-5:43 PM

नई दिल्ली: शिरोमणि अकाली दल ने राहुल गांधी पर उनकी उस टिप्पणी के लिए आज हमला किया कि दिल्ली में 1984 के दंगों को कांग्रेस ने रोकने का प्रयास किया था। शिरोमणि अकाली दल ने कहा कि कांग्रेस ने उन व्यक्तियों का बचाव किया जो सिखों के ‘‘नरसंहार’’ में शामिल थे।  शिरोमणि अकाली दल नेता नरेश गुजराल ने यहां कहा, ‘‘राहुल गांधी कहते हैं कि नरेंद्र मोदी 2002 के गुजरात दंगे के लिए जिम्मेदार थे क्योंकि वह वहां के मुख्यमंत्री थे। फिर उनके पिता का क्या जो उस समय प्रधानमंत्री थे जब दिल्ली में सिखों का नरसंहार हुआ था।’’ 

गुजराल ने कहा कि दिल्ली में 1984 के दंगों के दौरान कुछ प्रमुख लोग बार बार तत्कालीन राष्ट्रपति और गृह मंत्री के पास गए लेकिन दोनों ने अपनी लाचारी जतायी। उन विशिष्ट लोगों में उनके पिता :पूर्व प्रधानमंत्री आई के गुजराल:, सेवानिवृत्त जे एस अरोड़ा, पूर्व वायुसेना प्रमुख मार्शल अर्जन सिंह शामिल थे।’’ उन्होंने कहा कि 1984 के दंगों के दौरान दिल्ली में पुलिस ने दंगाइयों पर एक गोली भी नहीं चलाई और सेना को बुलाने में देरी की गई।

उन्होंने उसकी तुलना 2002 के गुजरात दंगों से करते हुए कहा कि पुलिस की गोलीबारी में बहुसंख्यक समुदाय के साथ ही अल्पसंख्यक समुदाय के लोग मारे गए थे। गुजराल ने कहा, ‘‘2002 के दंगों के लिए सैकड़ों लोगों को जेल में डाला गया जिसमें गुजरात के मंत्री भी शामिल हैं जबकि 1984 के वीभत्स अपराधों के आरोपियों को बचाया गया और यहां तक कि उन्हें सांसद भी बनाया गया।’’ गुजराल ने यह बात राहुल की उस टिप्पणी पर कही जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार 2002 के गुजरात दंगों को ‘‘भड़काने और बढ़ावा देने’’ के लिए जिम्मेदार थी जबकि कांग्रेस सरकार ने 1984 के दंगों को रोकने का प्रयास किया था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You