खुद को ‘बलि का बकरा’ महसूस कर रहे हैं कांग्रेसी नेता: सुखबीर

  • खुद को ‘बलि का बकरा’ महसूस कर रहे हैं कांग्रेसी नेता: सुखबीर
You Are HerePunjab
Thursday, March 20, 2014-9:41 PM

डेराबस्सी: कांग्रेस के कद्दावर नेताओं के चुनाव न लडऩे की इच्छा जाहिर करने के बीच शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने आज कहा कि राज्य में लोकसभा चुनाव लड़ रहे कांग्रेसी नेता भी खुद को ‘बलि का बकरा’ महसूस कर रहे हैं और इस प्रयास में हैं कि वे पार्टी में अपने विरोधियों को किसी तरह टिकट दिला कर अपने क्लब में शामिल कर लें।

पटियाला से अकाली..भाजपा गठबंधन उम्मीदवार दीपेंद्र सिंह ढिल्लों के समर्थन में आज यहां एक चुनाव रैली को सम्बोधित करते हुए बादल ने कहा कि प्रताप सिंह बाजवा और मनीष तिवारी जैसे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लोकसभा चुनाव लडऩे से भाग रहे थे लेकिन पार्टी हाईकमान के दबाव के चलते वह चुनाव लडऩे को मजबूर हैं।

ऐसे में अब उनका पूरा प्रयास है कि धुर विरोधी कैप्टन अमरिन्द्र सिंह को भी पार्टी टिकट दिला कर उन्हें भी बलि का बकरा बना दिया जाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को लोकसभा चुनावों के लिए प्रत्याशी नहीं मिल रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि ऐसा इसलिए हो रहा है कि कांग्रेस नेताओं को अपनी हार नजर आ रही है। वहीं दूसरी ओर जिन नेताओं की टिकटों का ऐलान हो चुका है वे अपने विरोधी को टिकट दिलाने के लिए उत्सुक हैं।

उन्होंने दावा किया कि आगामी लोकसभा चुनाव कांग्रेस का अंतिम चुनाव होगा क्योंकि मंहगाई, भ्रष्टाचार, घोटालों, बेरोजगारी और आॢथक कुप्रबंधन और जनविरोधी नीतियों से परेशान देश की जनता ने इस पार्टी को अदविदा कहने का बन बना लिया है जिसे इसके नेता भी जान रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस राज्य में कांग्रेस दो बार चुनाव हार गई उसके बाद वह कभी वहां सत्ता में नहीं आई। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You