बेरोजगार हो जाएंगे रोजगार देने वाले

  • बेरोजगार हो जाएंगे रोजगार देने वाले
You Are HerePunjab
Monday, March 31, 2014-7:46 PM

बरनाला: लोकसभा चुनाव के दौरान तमाम पाॢटयां रोजगार देने के वादे कर मतदाताओं को लुभा रही हैं लेकिन केंद्रीय जिला ग्रामीण विकास प्राधिकरण (डीआरडीए) कार्यालय कल से बंद हो जायेगा। दशकों से लोगों को रोजगार मुहैया कराने वाले ही चुनाव के दौरान बेरोजगार हो जाएंगे। बीते तीन दशक से सरकारी सेवाएं दे रहे इन कर्मचारियों और उनके परिवारों की सुध लेने वाला कोई नहीं हैअब इस योजना के स्थान पर नेशनल रूरल एप्लायमेंट मिशन (एनआरएलएम) हर राज्य में शुरू किया जा रहा है और इसमें नई भर्ती की गई हैं। पंजाब में इस योजना का नाम पंजाब देहाती रोजगार योजना रखा गया है।

इस मिशन की योजनाएं तो डीआरडीए वाली ही हैं सिर्फ नाम बदलकर नई भर्ती की गई है जबकि पुराने कर्मचारियोंं को नजरअंदाज करके उन्हें बेरोजगारी की दलदल में धकेला जा रहा है। पुराने कर्मचारी इन दिनों सदमें में हैं। उनके अनुसार कभी वे लोगोंं को रोजगार मुहैया कराते थे आज स्वंय रोजगार ढूंढने के लिए मजबूर हैं। यह स्थिति इसलिए बनी क्योंकि वे यह मानकर चल रहे थे कि केन्द्र ने उन्हें स्थायी पद दे दिया है जबकि वह अस्थायी रूप में ही काम कर रहे थे। इस मामले में डीआरडीए के तहत काम करने वालों का कहना है कि वह तीन दशकों से सरकारी पद पर कार्य कर रहे हैं और अब वे बेरोजगार हो जायेंगे। अब उन्हें नौकरी कौन देगा तथा बुढापे में कहां ठोकरें खायेंगे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You