देखिए, इस 35 मिनट की बातचीत में रेप पीड़िता कैसे न्याय के लिए लड़ रही है

  • देखिए, इस 35 मिनट की बातचीत में रेप पीड़िता कैसे न्याय के लिए लड़ रही है
You Are HereNational
Saturday, April 05, 2014-3:29 PM

चंडीगढ़: खुड्डा लाहौरा नाबालिगा दुष्कर्म मामले में 2 अप्रैल को पीड़िता द्वारा अदालत में पेश होकर अदालत को दिखाई गई सी.डी. के महत्वपूर्ण 35 मिनट की बातचीत ‘पंजाब केसरी’ के पास मौजूद है। 

पीड़िता ने अदालत में एक  आरोपी अनिल की पत्नी कांस्टेबल कविता व खुद की बातचीत होने का दावा पेश किया था। बातचीत में पीड़िता व कविता के बीच पैसे की लेनदेन, अदालत में कैसे बयान देने है व जेल में अक्षय से मुलाकात के तरीके को लेकर लम्बी बातचीत है। कविता बातचीत में हरियाणवी बोल रही है। वहीं बातचीत के कई अंश ट्रैफिक के शोर व धीमी आवाज में  कमजोर हैं। 

इस बातचीत के कई अहम अंश कुछ इस प्रकार है:-

कविता:  वह बोल रहा था, मेरा कोई जानकार है खास, उस लड़की को यह कह देना पैसे लेते वक्त यह ध्यान रखे की किसी वीडियो ऑडियो... चारों तरफ देख ले। 

पीड़िता: रिकॉर्डिंग तो आपने मेरी पहले ही कर रखी है। 

कविता : नहीं, देते वक्त की बात होती है, अभी पैसे थोड़े न लिए तूने, जब लेगी न तब बोलना नहीं है कुछ भी।...बोल देना मैं चारों को नहीं जानती। पैसे लेकर सीधा अपने घर मत जाना। उसने कहा था कि लड़की को कह देना....(पीड़िता को एक फोन आता है)

कविता : फिर वो पैसे देकर तेरे को छोड़ के जाएगा मेरे पास, मेरे भाई के पास फोन आया था लड़की पैसे मांग रही है, 27 तारीख का नाम लिया है उसने। शादी करनी है तो 25 को ही हो जाएगी कोर्ट में जाकर मम्मी पापा बोल देंगे लड़की 18 से ऊपर है हमसे लिखवाने में गलती हो गई है। पैसे के बारे में मत बताना, डेट उसकी एक डेढ़ माह की रखना, एल.आई.सी. करवाना। 2-4 दिन का मामला है तेरे को पैसे लेने हैं उससे। कोई पूछेगा कि तूने अनिल का नाम क्यों नहीं लिया तो कहना जो दिल में था बोल दिया। 

पीड़िता : मेरे को जेल में अक्षय से मिलवा दो। 

कविता : क्यों मिलना चाहती हो?

पीड़िता : एफिडैविट बनवाना चाहती हूं इन सभी का, सैक्टर-17 में वैसे तो बनता है। 

कविता : समझी नहीं मैं।

पीड़िता : जैसे पैसे दे दिए उन्होंने यह बाद में तंग नहीं करेंगे। (पीड़िता को फोन आता है)

कविता : एफिडैविट बनवाने की जरूरत नहीं तेरे को, दोबारा फंसाना उनको। तेरे को यही डर लग रहा है कि पांचों बंदे बाहर आकर तेरे को तंग न करे, तो इनसे डरने की कोई बात नहीं। तू लड़की तो है, दोबारा वहीं जाना है क्या उनको? टैंशन करने की बात नहीं।

पीड़िता : एक बार विनोद से मिल लेती।

कविता : मैंं विनोद से मिल नहीं सकती, 25 तारीख को कह देगा मेरी सिस्टर 18 साल की हो चुकी है। इसके साथ शादी करना चाहती है। ताकि शादी हो जाए।

पीड़िता : कहीं ऐसा न हो कि मैं फंस जाऊं।

कविता : फंसने को तेरे को किस का डर लग रहा है। तू जेल में कैसे जाएगी मेरे को भी तो बता। 

पीड़िता : ऐसा नहीं हो सकता कि अक्षय से मैं साइन करवा लूं लिखवा लूं कि मैं रीटा (नकली नाम) से शादी करना चाहता हूं। अक्षय मेरा हाथ पकड़े और जज के सामने मेरी मांग भरे। मैं नहीं बोलूंगी की मेरी मांग भर वो खुद बोले। 

कविता : बोल देना की यह अक्षय है। इससे मैं शादी करना चाहती हूं। मां-बाप चाहे तो शादी कर देंगे। अक्षय की कोशिश भी यही है कि तेरे को 18 साल की करे वो पूरी-पूरी कोशिश कर रहा है। 

पीड़िता : कोर्ट में ऐसे बोल सकते है कि मैं अपनी कम्पलेंट वापस लेना चाहती हूं और अक्षय से शादी करना चाहती हूं। 

कविता : तेरे बयान हो सकते है। 4-5 लाख लाए........(आवाज कम) अपने पैसे लिए चल दिओ, पास में कोई न हो। पैसे लेने के बाद कुछ नहीं बोलना। सुनील की रिपोर्ट आ जाएगी तो भी कुछ नहीं होगा तेरा। गाड़ी में तेरे को बिठकार ले जाएंगे तूने बोलना कुछ नहीं। ऑन ड्यूटी से पहले में तुझे ले लूंगी। 

पीड़िता : आप बस ये बता दो जेल में कैसे जाएंगे कोई हमें ले जाए। 

कविता : विनोद तो मिल ही सकता है। तू प्रूफ ले आना किसी का। एप्लीकेशन लिख देना कॉलम छोड़ देना, फोन बाहर रखवा देते हैं। अपने नाम का, एड्रैस न हो फोटो किसी की भी हो, नाम याद कर लेना किस का नाम है। ऐज हिसाब की हो। 20-25 की होगी तो भी चल जाएगी। किसी को बताना नहीं चले जाना। कोर्ट में कहना कोई पैसे नहीं चाहिए सिर्फ शादी चाहिए। मैं अनिल को मिलने जाती हूं ड्यूूटी नहीं होती। 

पीड़िता : बस मेरी एंट्री करवा देना। 

कविता : मुझसे तो कोई पूछता। कह देना अक्षय की रिलेटिव हो। अंजान बनकर बात कर लेंगे। अंदर कुछ नहीं ले जाने देते। मैं एफिडैविट लेकर गई थी। कह देना सर सिग्नेचर करवाने हैं। कोई बकवास करता है तो चले आना 2 मिनट तो मिलने ही देगा। यह मत बताना हम जानते है एक दूसरे को। 

(पीड़िता को फोन आता है और बातचीत बंद हो जाती है)

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You