Subscribe Now!

किसी का दोष उजागर करना चाहो तो पहले अपना दोष देख लो

  • किसी का दोष उजागर करना चाहो तो पहले अपना दोष देख लो
You Are HereReligious Fiction
Tuesday, February 11, 2014-7:58 AM

कुरआन शरीफ

वास्तव में जब हम दूसरों को दोष देते हैं तो स्वयं को बदलने का अवसर खो देते हैं। भलाई और बुराई समान नहीं हैं, तो तुम बुराई को भलाई के द्वारा दूर करो, तुम देखोगे कि वह व्यक्ति जिसके और तुम्हारे बीच शत्रुता थी, तुम्हारा घनिष्ठ मित्र बन जाएगा।  

                                                                                                                                                                      (कुरआन: 41:34)

ईश्वर पर या दूसरों पर दोषारोपण करने के बजाए हमें विफलता के कारणों को खोजना चाहिए और उन्हें दूर करने का प्रयास करना चाहिए। ईश्वर तो भलाई की ओर ही हमारा मार्गदर्शन करता है, यह हमारा अपना ही दोष होता है कि हम उसकी अनदेखी कर उस ओर अग्रसर होते हैं जहां हमारी इन्द्रियों को क्षणिक सुख मिलता है। अन्तिम ईश-दूत हजऱत मुहम्मद स. ने कहा ‘जब तुम अपने साथी का दोष उजागर करना चाहो तो पहले अपना दोष देख लो।’

                                                                                                                                                                           -हदीस: बुख़ारी
मनुष्य का पालनहार इस प्रकार उसकी परीक्षा लेता है कि उसे उसकी आजीविका नपी-तुली कर देता है, तो वह कहता है ‘मेरे पालनहार ने मुझे अपमानित कर दिया।

                                                                                                                                                                    (कुरआन: 89:15,16)

जब हमें कष्ट मिलता है तो हम अपना आपा खो बैठते हैं और उस दयालु ईश्वर को दोष देने लगते हैं जबकि कष्ट के पीछे या तो हमारे आचरण का दोष होता है या फिर ईश्वर की ओर से हमारी परीक्षा होती है। इसी प्रकार कोई काम बिगडऩे पर हम अपनी त्रुटियों पर दृष्टिपात करने के बजाय दूसरों को दोष देने लगते हैं जबकि कई बार हमारी त्रुटि के कारण काम बिगड़ता है।        

                                                                                                     - डॉ. मुहम्मद इकबाल सिद्दीकी, इस्लामी विद्वान, जयपुर

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You