लतीफ ने कनेरिया का स्पॉट फिक्सिंग मामले में किया बचाव

  • लतीफ ने कनेरिया का स्पॉट फिक्सिंग मामले में किया बचाव
You Are HereSports
Sunday, August 18, 2013-12:28 PM

कराची: पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेट कप्तान राशिद लतीफ ने प्रतिबंधित स्पिनर दानिश कनेरिया का बचाव करते हुए उनके खिलाफ स्पॉट फिक्सिंग के साक्ष्यों पर सवाल उठाए हैं। लतीफ ने दावा किया है कि इस स्पिनर के करीब माना जाने वाला कथित भारतीय सट्टेबाज कई मौकों पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का आधिकारिक मेहमान था।

 

लतीफ के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की भ्रष्टाचार रोधी और सुरक्षा इकाई अब तक यह साबित नहीं कर पाई है कि भारतीय अरूण भट सचमुच में पेशेवर सट्टेबाज है। पाकिस्तान के इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने दानिश के खिलाफ जो मामला, साक्ष्य तैयार किए हैं उसमें काफी अस्पष्टताएं हैं। एक संदेह यह है कि ईसीबी ने भट को भारतीय सट्टेबाज बताया है जो कनेरिया से जुड़ा रहा लेकिन मुझे उसका नाम भारत के स्थापित स्ट्टेबाजों की सूची में नहीं मिला।’’

 

लतीफ ने इसके बाद खुलासा किया कि भट पीसीबी का नियमित मेहमान रहा है। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने दावा किया, ‘‘भारत और इंग्लैंड ने जब क्रमश: 2005 और 2006 में पाकिस्तान का दौरा किया तो वह पीसीबी का मेहमान था। वह दोनों मौकों पर पीसीबी के मेहमान के रूप में पाकिस्तान में रहा।’’ लतीफ ने दावा किया, ‘‘इसके बाद भी भट ने पाकिस्तान टीम के साथ श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज का दौरा किया।’’

 

ईसीबी की अनुसाशन समिति ने पिछले साल कनेरिया पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। समिति ने काउंटी क्रिकेट में स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण की जांच के बाद यह कदम उठाया था। यह स्पिनर तब 2009 में एसेक्स की ओर से डरहम के खिलाफ खेल रहा था। ईसीबी के अपील पैनल ने भी कनेरिया की अपील खारिज कर दी थी लेकिन इस स्पिनर ने अब ब्रिटेन की व्यावसायिक अदालत में अपने प्रतिबंध और उन पर लगाए जुर्माने के खिलाफ एक अन्य अपील दायर की है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You