पेड़ के तने की तरह है टैस्ट क्रिकेट: द्रविड़

  • पेड़ के तने की तरह है टैस्ट क्रिकेट: द्रविड़
You Are HereSports
Tuesday, August 20, 2013-11:39 PM

लंदन: टैस्ट क्रिकेट के भविष्य को बचाने की अपील करते हुए भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने गुलाबी गेंद के इस्तेमाल के साथ दिन-रात्रि मैचों को शुरू करने का सुझाव दिया है।

उन्होंने इस दौरान खेल के पारंपरिक प्रारूप की तुलना पेड़ के तने से भी की। द्रविड़ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हम संभवत: उस स्थिति में पहुंचने से सिर्फ एक पीढ़ी दूर हैं जब हमारा पूरा युवा ढांचा सिर्फ टी-20 पर ध्यान देगा और टैस्ट क्रिकेट को कोई तवज्जो नहीं देगा।’’उन्होंने कहा, ‘‘अगर इसका मतलब यह हुआ कि प्रथम श्रेणी और टैस्ट खिलाडिय़ों को अधिक लुभावने अनुबंध दिए जाएं तो लेखाकरों को इस काम में लगाया जाना चाहिए।

’’यहां द ओवल में ई.एस.पी.एन. क्रिकइन्फो के ‘द फ्यूचर ऑफ टैस्ट क्रिकेट इन मॉडर्न एज’ कार्यक्रम में द्रविड़ ने कहा, ‘‘अगर इसका मतलब दिन-रात्रि क्रिकेट खेलना है तो हमें ऐसा प्रयास करना चाहिए और विकल्प खुले रखने चाहिएं। अगर हम टैस्ट क्रिकेट कोम दूधिया रोशनी में खेलेंगे तो इससे खेल की परंपरा को खतरा नहीं होगा। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You