शुक्र है, सिर्फ 6 महीने की सजा मिली: रायडर

  • शुक्र है, सिर्फ 6 महीने की सजा मिली: रायडर
You Are HereSports
Wednesday, August 21, 2013-3:25 PM

वेलिंग्टन: डोपिंग में नाकाम होने के बाद छह महीने का प्रतिबंध झेल रहे न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के बल्लेबाज जेसी रायडर ने अपनी सजा की अवधि को लेकर संतोष जाहिर किया है।

रायडर मार्च में हुए डोप टेस्ट में नाकाम हुए थे। रायडर पर लगा प्रतिबंध अप्रैल से मान्य होगा और अब वह 19 अक्टूबर तक ही क्रिकेट में हिस्सा ले सकेंगे।

रायडर ने ‘फेयरफैक्स मीडिया’ से बातचीत के दौरान स्वीकार किया है कि वह थोड़े लापरवाह हो गए थे और इसी कारण प्रतिबंधित दवाइयां उनके शरीर के अंदर प्रवेश कर सकीं।

रायडर ने कहा, ‘‘यह निश्चित तौर पर मेरी गलती है। मैं सजा के लिए तैयार हूं। मुझे खुशी इस बात की है कि मेरे मामले को हल्के में लिया गया और सिर्फ छह महीने की सजा दी गई। वैसे तो टेस्ट में नाकाम होने पर दो साल की सजा का प्रावधान है। इस मामले में मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं।’’

वेलिंग्टन के लिए फोर्ड ट्रॉफी मैच खेल रहे होने के दौरान रायडर का डोप टेस्ट हुआ था। जांच में पता चला कि उनके खून और मूत्र के नमूनों में तीन तरह के प्रतिबंधित दवाओं के अंश पाए गए हैं।

रायडर को इस बात की जानकारी 12 अप्रैल को दी गई और इसके बाद उनकी न्यूजीलैंड स्पोट्र्स ट्राइब्यूनल के सामने पेशी हुई। इसी पेशी के दौरान रायडर पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया गया।

प्रतिबंधित दवाओं के सेवन का दोषी पाए जाने पर दो साल के प्रतिबंध का प्रावधान है लेकिन रायडर को सिर्फ छह महीने की सजा इसलिए सुनाई गई क्योंकि यह माना गया कि उन्होंने अपना प्रदर्शन सुधारने के लिए इन दवाओं का सेवन नहीं किया है।

रायडर ने कहा था कि उन्होंने अपना वजन कम करने की प्रक्रिया में कई दवाइयों का सेवन किया था और इसी दौरान उनके शरीर में प्रतिबंधित दवाओं के अंश पहुंचे  हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You