ली ना ने सेमीफाइनल में किया प्रवेश

  • ली ना ने सेमीफाइनल में किया प्रवेश
You Are HereSports
Wednesday, September 04, 2013-12:17 PM

न्यूयार्क: मौजूदा चैंपियन सेरेना विलियम्स ने पूरी तरह से एकतरफा मुकाबले में जीत दर्ज करके अमेरिकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में चीन की पांचवीं वरीयता प्राप्त ली ना के साथ रोचक मुकाबले की नींव रखी। दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी और 16 बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन सेरेना 18वीं वरीयता प्राप्त कार्ला सुआरेज नवारो के खिलाफ कोर्ट पर पूरी तरह से निर्ममता बरती।

उन्होंने स्पेन की खिलाड़ी को उसके 25वें जन्मदिन पर केवल 52 मिनट में 6-0, 6-0 से करारी शिकस्त दी। सेरेना ने कहा, ‘मैं सेमीफाइनल में पहुंचकर बहुत खुश हूं। यह वास्तव में शानदार है।’ इसके विपरीत 2011 की फ्रेंच ओपन चैंपियन चीनी खिलाड़ी ली ना को तीन सेट तक जूझना पड़ा। उन्होंने कुछ विषम पलों से गुजरने के बाद रूस की 24वीं वरीय इकटेरिना मकरोवा को 6-4, 6-7, 6-2 से हराया। मौजूदा फ्रेंच ओपन चैंपियन सेरेना का ली ना के खिलाफ रिकार्ड 8-1 है लेकिन इन दोनों के बीच यूएस ओपन से पहले सिनसिनाटी में हुए मैच में चीनी खिलाड़ी ने 7-5, 7-5 से जीत जीत दर्ज की।

सेरेना ने कहा, ‘वह अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ फार्म में है। यह बेहद कड़ा मैच होगा।’ अब तक पांच मैचों में केवल 13 गेम गंवाने वाली सेरेना ने यूएस ओपन के इतिहास में क्वार्टर फाइनल में सबसे अच्छी जीत की बराबरी की। मार्टिना नवरातिलोवा ने 1989 में बुल्गारिया की मनुएला मलीवा को 6-0, 6-0 से हराया था। सेरेना ने एक प्रशंसक की उस अपील को भी नजरअंदाज कर दिया जिसने कहा कि वह कार्ला सुआरेज को अपने जन्मदिन पर कम से कम एक गेम तो जीतने दे। सेरेना ने किसी तरह की दया नहीं दिखायी।

आर्थर ऐस स्टेडियम में काफी हवा चल रही थी और सेरेना ने ऐसे में केवल 52 मिनट में जीत हासिल की। उन्होंने कहा, ‘वह अच्छी खिलाड़ी है लेकिन यहां परिस्थितियां काफी मुश्किल थी। निश्चित तौर पर आज उसने अच्छी टेनिस नहीं खेली। मैं यहां काफी समय से खेल रही हूं और इसलिए परिस्थितियों से अच्छी तरह से वाकिफ हूं।’ इस बीच दो बार की ऑस्ट्रेलियाई ओपन चैंपियन और दूसरी वरीयता प्राप्त विक्टोरिया अजारेंका क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं।

बेालरूस की इस खिलाड़ी ने सर्बिया की 13वीं वरीय अन्ना इवानोविच को 4-6, 6-3, 6-4 से हराया। बारिश के कारण यह मैच पिछले दिन पूरा नहीं हो पाया था। अजारेंका का अगला मुकाबला 48वीं रैंकिंग की डेनियला हांतुचोवा से होगा। यदि हांतुचोवा यह मैच जीत जाती हैं तो वह इस बार अंतिम चार में पहुंचने वाली 30 साल से अधिक उम्र की तीसरी खिलाड़ी होंगी। इससे पहले विंबलडन में 1994 में ऐसा हुआ था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You