बिंद्रा-चौटाला विवाद में कूदा खेल मंत्रालय

  • बिंद्रा-चौटाला विवाद में कूदा खेल मंत्रालय
You Are HereSports
Saturday, September 07, 2013-2:10 PM

नई दिल्ली: केंद्रीय खेल मंत्रालय ने शनिवार को स्पष्ट किया कि वह अंतर्राष्ट्रीय खेल अवार्डियों को राष्ट्रीय हीरो मानता है और ऐसे खिलाडिय़ों पर किसी भी तरह का हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मंत्रालय ने एक बयान में कहा ‘यह बड़ा दुखद है कि कुछ व्यक्ति ऐसे खिलाडिय़ों पर मीडिया में टिप्पणी कर रहे हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में देश का मान और सम्मान बढाया है।’

मंत्रालय ने दोहराया कि वह अंतर्राष्ट्रीय खेल अवार्डियों को राष्ट्रीय हीरो के रूप में देखता है और ऐसे खिलाडिय़ों के खिलाफ किसी भी तरह के हमले को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मंत्रालय भारतीय खिलाडिय़ों और देश में खेलों के हित के लिए हर संभव काम करने को प्रतिबद्ध है। केंद्रीय खेल मंत्रालय का यह कड़ा संदेश निलंबित भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष अभय सिंह चौटाला के ओलंपिक स्वर्ण विजेता निशानेबाज अभिनव बिंद्रा पर साधे निशाने की तरफ है।

बिंद्रा ने आईओए के दागी अधिकारियों के खिलाफ अभियान चला रखा है। बिंद्रा के इस अभियान से नाराज चौटाला ने शुक्रवार को कहा था कि बिंद्रा के पिता आईएस बिंद्रा 2009 में कथित वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में गिरफ्तार किए गए थे। चौटाला ने यह भी कहा ‘यदि बिंद्रा को लगता है कि आरोपी लोगों से उनके पद को छीन लेना चाहिए तो सबसे पहले या तो वह अपने पिता को घर से बाहर कर दें या खुद ही घर छोड़ दें।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You