वर्ष 1985 विश्व चैम्पियनशिप के बल्ले को नीलामी में मिले 4.5 लाख रुपए

  • वर्ष 1985 विश्व चैम्पियनशिप के बल्ले को नीलामी में मिले 4.5 लाख रुपए
You Are HereSports
Monday, September 16, 2013-4:52 PM

मुंबई: ऑस्ट्रेलिया में 1985 विश्व क्रिकेट चैम्पियनशिप में भाग लेने वाली सभी टीमों के खिलाडिय़ों द्वारा हस्ताक्षर किये गये बल्ले और पूर्व आफ स्पिनर ईरापल्ली प्रसन्ना के संग्रह को हाल में यहां की गई नीलामी में सबसे ज्यादा राशि मिली।

मीडिया विज्ञप्ति के अनुसार ओसियान की खेल की यादगार वस्तुओं की 13 सितंबर को हुई नीलामी में इस बल्ले की सबसे ज्यादा बोली लगायी गयी जो 4.5 लाख रुपए थी। महान क्रिकेटर रंजीत सिंह जी की हस्ताक्षर की गयी ‘जुबली बुक आफ क्रिकेट’ के पहले संस्करण को किताबों के वर्ग में सर्वाधिक 1.08 लाख रुपए मिले। लाड्र्स में जून 1932 में खेलने वाली भारत की पहली टेस्ट एकादश फोटोग्राफ की नीलामी 90,000 रुपए में हुई, जिस पर देश के पहले टेस्ट कप्तान सी के नायुडू के हस्ताक्षर थे।

समकालीन अनुभाग में हरभजन सिंह द्वारा हस्ताक्षर की गयी टेस्ट जर्सी 2.16 लाख रुपए में बिकी, जो उन्होंने अपना 400वां विकेट हासिल करने के दौरान पहनी थी जबकि वीवीएस लक्ष्मण के हस्ताक्षर वाले ग्लव्स की नीलामी 1.80 लाख रुपए में हुई। लक्ष्मण ने कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट के दौरान 103 रन की नाबाद पारी के दौरान इन्हें पहना था। नीलाम किए गए अन्य वस्तुओं में अंशुमन गायकवाड़ का हस्ताक्षर किया हुआ बल्ला भी शामिल था, जिससे उन्होंने सितंबर 1983 में जालंधर में पाकिस्तान के खिलाफ नाबाद 201 रन की पारी खेली थी।

पूर्व भारतीय कप्तान जी एस रामचंद द्वारा हस्ताक्षर किया हुआ बल्ला तथा 1974-75 टेस्ट श्रृंखला के दौरान वेस्टइंडीज और भारतीय टीम द्वारा हस्ताक्षर किया गया प्रोमोशनल बल्ले की भी नीलामी हुई। दिवंगत दिलीप सरदेसाई और अंशुमन गायकवाड़ की राष्ट्रीय टाई तथा पूर्व भारतीय कप्तान अजीत वाडेकर के संग्रह भी इसमें शामिल था। इसमें 1967-68 में भारत के ऑस्ट्रेलिया के दौरे के दौरान पूर्व कप्तान एमएके पटौदी, रमाकांत देसाई, बापू नादकर्णी और वाडेकर की सिडनी हार्बर पर फिशिंग करते हुए फोटो भी नीलाम हुई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You