सफलता को जारी रखने उतरेगी टीम इंडिया

  • सफलता को जारी रखने उतरेगी टीम इंडिया
You Are HereSports
Thursday, October 10, 2013-7:05 AM

राजकोट: आस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू टैस्ट सीरीज में ऐतिहासिक ‘क्लीन स्वीप’ हासिल करने के बाद धोनी के धुरंधर गुरुवार को जब यहां कंगारू टीम के खिलाफ एकमात्र ट्वंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच में उतरेंगे तो उनका लक्ष्य उसी सफलता को आगे ले जाना होगा।

भारत ने साल की शुरूआत में आस्ट्रेलिया को टैस्ट सीरीज में 4-0 से हराया था। इस तरह आस्ट्रेलिया को पिछले 30 सालों में पहली बार क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ा था। टीम इंडिया की कोशिश अब उसी प्रदर्शन को एकमात्र ट्वंटी-20 और उसके बाद होने वाली 7 मैचों की वनडे सीरीज में भी जारी रखने की होगी।

भारत और आस्ट्रेलिया का खेल के इस फटाफट स्वरूप में 7 बार आमना-सामना हुआ है जिसमें 4 बार जीत कंगारू टीम की झोली में गिरी है जबकि 3 बार टीम इंडिया ने बाजी मारी है। यानी भारत के पास बराबरी पर आने का यह अच्छा मौका है। दोनों टीमों के कई खिलाड़ी हाल ही में चैम्पियंस लीग में खेलकर आए हैं और शानदार फार्म में चल रहे हैं।

इन्द्रदेव की मेहरबानी रही तो इस मैच में झन्नाटेदार मुकाबले की उम्मीद की जा सकती है। भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी, शिखर धवन, रवीन्द्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, सुरेश रैना, अंबाती रायडू और रोहित शर्मा ने चैम्पियंस लीग में हिस्सा लिया था। 

युवराज पर से दबाव हटाने की कोशिश करेंगे: धोनी
भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज स्वीकार किया कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी वनडे शृंखला में टीम में वापसी कर रहे युवराज सिंह पर दबाव होगा लेकिन कहा कि ड्रैसिंग रूम का माहौल सामान्य रखकर उन पर से अनावश्यक दबाव कम करने की कोशिश की जाएगी।

धोनी ने कहा कि यदि युवराज दबाव और अपेक्षाओं पर ध्यान नहीं देंगे तो अच्छा प्रदर्शन करेंगे। आस्ट्रेलिया के खिलाफ कल होने वाले टी-20 मैच से पहले धोनी ने कहा, ‘‘हम चीजों को सामान्य रखने की कोशिश करेंगे। यदि कोई खिलाड़ी वापसी कर रहा है तो उस पर दबाव होता ही है। उस पर से यह दबाव हटाना जरूरी है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You