अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गेंदबाजों का यह प्रदर्शन बर्दाश्त नहींः धोनी

  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गेंदबाजों का यह प्रदर्शन बर्दाश्त नहींः धोनी
You Are HereSports
Sunday, October 20, 2013-1:09 AM

मोहालीः आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे मुकाबले में गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण मिली हार से काफी नाराज दिख रहे भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को कहा कि मैच के आखिरी ओवर काफी निराशाजनक रहे जिसके कारण मैच हाथ से निकल गया।

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 139 रनों की रिकार्डतोड़ पारी खेलकर भारत के स्कोर को 300 के पार पहुंचाने में अहम मदद की थी लेकिन गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन के कारण टीम की जीत हार में बदल गई। धोनी ने मैच के बाद कहा, आखिरी ओवर बहुत ही निराशाजनक रहे। हमारे लिए यह चिंता का विषय है और यह लगातार खराब होता जा रहा है। धोनी ने कहा, मैदान पर ओस की काफी भूमिका रही लेकिन यह पिच जयपुर से फिर भी बेहतर थी।

अब समय आ गया है जब किसी एक को आगे आकर जिम्मेदारी लेनी होगी। हमें अपनी पूरी मजबूती के साथ खेलना होगा। इस हार के साथ ही भारत सीरीज में 1-2 से पिछड़ चुका है। भारतीय कप्तान ने गेंदबाजों को कुछ चेतावनी भरे लहजे में कहा, अंतरराष्ट्रीय मैचों में गेंदबाजों का यह प्रदर्शन बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। धोनी ने साथ ही कहा बल्लेबाजों के  प्रदर्शन पर भी निराशा जताई।

कप्तान ने कहा, हम और भी बेहतर बल्लेबाजी कर सकते थे। हमे खुद को सौभाग्यशाली समझना चाहिए कि हमने यहां 300 से अधिक स्कोर बना लिया जबकि मुझे लगता है कि यहां 250 तक ही स्कोर बन सकता था। इन परिस्थितियों में भी धोनी ने धैर्य का परिचय देते हुये कुछ खिलाडिय़ों की प्रशंसा की। धोनी ने कहा, आलरांउडर रवींद्र जडेजा ने मध्यओवरों में अच्छी गेंदबाजी की। हमें पार्ट टाइम गेंदबाजों से और अच्छे प्रदर्शन की जरूरत है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You