क्लार्क से ईर्ष्या करता था पोंटिंग: वार्न

  • क्लार्क से ईर्ष्या करता था पोंटिंग: वार्न
You Are HereSports
Monday, November 04, 2013-1:28 PM

मेलबर्न: अपने जमाने के दिग्गज स्पिनर शेन वार्न का मानना है कि पूर्व आस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने जब अपनी आत्मकथा में अपने उत्तराधिकारी माइकल क्लार्क की आलोचना की तो तब वह ‘ईर्ष्या’ से प्रेरित थे। एशेज से पहले वार्न ने एलिस्टेयर कुक की भी कड़ी आलोचना की और कहा कि इंग्लैंड के कप्तान को इस महीने के आखिर में शुरू होने वाली श्रृंखला में जीत दर्ज करने के लिये अधिक ‘कल्पनाशील’ होने की जरूरत है।

 

पोंटिंग ने अपनी किताब ‘एट द क्लोज आफ प्ले’ में लिखा है कि वह तब निराश थे जब क्लार्क उप कप्तान रहते हुए अधिक योगदान नहीं दे रहे थे। उनका मानना था कि क्लार्क ड्रेसिंग रूम के माहौल में खुद को नहीं ढाल पा रहे थे। वार्न ने हालांकि स्काई स्पोट्र्स के एशेज कवरेज के लिये इंग्लैंड के पत्रकार के साथ बातचीत के दौरान अपने ‘सबसे अच्छे दोस्त’ क्लार्क का बचाव किया। वार्न ने कहा, ‘‘मैं रिकी के बार में कुछ भी गलत नहीं कहना चाहता हूं।

 

मैं जानता हूं कि आस्ट्रेलियाई इतिहास में तीन एशेज श्रृंखला हारने वाला एकमात्र कप्तान होने के कारण वह खुद ही बहुत आहत था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए मेरा रिकी के प्रति कोई दुराग्रह नहीं क्योंकि वह अच्छा इंसान है और अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ करने का प्रयास करता है। लेकिन पप (क्लार्क) के बारे में उसने जो कुछ लिखा वह ईर्ष्यावश था क्योंकि पप बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था और रिकी अपने करियर के अवसान पर था। वह अधिक रन नही बना पा रहा था और पिछले कुछ वर्षों से केवल टीम का हिस्सा बना हुआ था ’’

 

वार्न ने कहा कि ड्रेसिंग रूम में क्या चल रहा था इस पर लिखने का पोंटिंग का फैसला बहुत सामान्य था और इसकी तुलना एलन बोर्डर और मार्क टेलर जैसे खिलाडिय़ों से नहीं की जा सकती। वार्न की नजर में वह जिन कप्तानों के साथ खेले में उनमें बोर्डर और टेलर सर्वश्रेष्ठ थे। इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक के बारे में वार्न ने कहा, ‘‘कुक नकारात्मक और उबाउ हो सकता है। वह बहुत अधिक कल्पनाशील नहीं है और फिर जीत रहा है और खुश रह सकता है।’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘कुक को अधिक कल्पनाशील होने की जरूरत है। यदि आस्ट्रेलिया अच्छा खेलता है और कुक जिस तरह से कप्तानी कर रहा है उसी तरह आगे बढ़ता है तो फिर मुझे लगता है कि वह श्रृंखला हार जाएगा। मुझे नहीं लगता कि वह इस तरह से कप्तान बने रह सकता है। मैं किसी के खिलाफ नहीं बोल रहा हूं। मेरा जो मानना है वही बोल रहा हूं।’’

 

वार्न ने कहा, ‘‘मेरी नजर में माइकल क्लार्क अभी दुनिया का सर्वश्रेष्ठ कप्तान है। वह काफी कल्पनाशील है और जानता है कि जोनाथन ट्राट या कुक के लिए कैसे क्षेत्ररक्षण सजाना हैं कुक कभी लेग स्लिप या लेग गली नहीं लगाएगा। वह सक्रिय नहीं है। वह आक्रामक नहीं है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You