सचिन के चूकते ही करोड़ों भारतीयों के मुंह से निकली ‘ओह’

  • सचिन के चूकते ही करोड़ों भारतीयों के मुंह से निकली ‘ओह’
You Are HereSports
Friday, November 15, 2013-1:59 PM

मुंबई: मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को करियर के आखिरी मैच में शतक बनाते देखने की देश और दुनिया के करोड़ों प्रशंसकों की उम्मीदें उस समय टूट गई जब सचिन 74 रन की पारी खेलकर पवेलियन लौट गए। हालांकि इसके बावजूद सचिन को दिल से प्यार करने वाले उनके प्रशंसकों ने तालियों की गडग़ड़ाहट के साथ सचिन का अभिवादन किया।

वेस्टइंडीज के खिलाफ वानखेडे स्टेडियम में अपने 24 वर्षों के सुनहरे करियर का आखिरी और 200वां टेस्ट मैच खेल रहे सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार से शुरू हुए मैच में भारत की पहली पारी में चौथे बल्लेबाज के रूप में मैदान पर एंट्री की। सचिन ने दर्शकों की उम्मीदों पर खरा उतरने की सच्ची कोशिश करते हुए शानदार तरह से अपनी पारी को शुरू की और पहले दिन का खेल समाप्त होने तक नाबाद 38 रन बनाए। सचिन ने मैच के दूसरे दिन भी पूरे आत्मविश्वास के साथ बल्लेबाजी की और 118 गेंदों में 12 शानदार चौके लगाकर 74 रन बना डाले।

इसी के साथ सचिन ने अपने 200वें टेस्ट में अपना 68वां टेस्ट अद्र्धशतक भी पूरा कर लिया। हालांकि सचिन भारत के तीसरे
बल्लेबाज के रूप में वेस्टइंडीज का शिकार बन गए। सचिन को नरसिंह देवनारायण ने कप्तान डैरेन सैमी के हाथों स्लिप में कैच कराया। सचिन को शतक बनाता देखने के लिए कांग्रेस के महासचिव राहुल गांधी, बॉलीवुड के भारतीय सुपर हीरो रितिक रोशन और मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान सहित कई दिग्गज हस्तियां स्टेडियम में मौजूद थी।

सभी को इंतजार था कि सचिन अपना शतक पूरा करेंगे लेकिन जैसे ही मास्टर ब्लास्टर स्लिप में कैच आउट हुए तमाम दर्शकों और टेलीविजन पर इस मैच का ह्नरसारण देख रहे करोड़ों दर्शकों के मुंह से एक स्वर में आह निकली क्रिकेट के भगवान शतक से 26 रन पहले आउट क्यों हो गए। सचिन के आउट होते ही कई दर्शक तो वानखेडे स्टेडियम से उठकर ही बाहर चल दिए। दिल्ली से मुंबई इस टेस्ट को देखने पहुंचे अरूण कनौजिया को बड़ा अफसोस था कि मास्टर ब्लास्टर शतक से चूक गए।

अरूण ने कहा ‘मैं चाहता था कि सचिन अपना शतक पूरा करें। लेकिन उनके आउट होने से मुझे गहरा झटका लगा और काफी समय तक तो मैं स्तब्ध खड़ा रह गया। हालांकि अब मैं और यहां मौजूद मेरे साथी चाहते हैं कि सचिन को दूसरी पारी में एक बार फिर बल्लेबाजी करते देखने का मौका मिल सके।’ सिंगापुर से इस मैच को देखने मुंबई आए एक दर्शक ने उम्मीद जताई कि सचिन को दूसरी पारी में खेलने का मौका मिलेगा और वह उन्हें शतक बनाता जरूर देखेंगे। दरअसल दर्शकों में सचिन की दीवानगी इस कदर है कि वे चाहते हैं कि सचिन को दूसरी पारी में खेलने का मौका मिले और वह शतक बना सकें। ऐसा जूनुन विरले खिलाडिय़ों के लिए ही होता है। कई स्थानीय दर्शकों ने भी ऐसी ही भावनायें व्यक्त की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You